June 23, 2017

ताज़ा खबर
 

इस नए वाई-फाई सिस्टम से एक सेकेंड में ही डाउनलोड हो जाएंगी 60 फिल्में

मौजूदा WiFi नेटवर्क की तुलना में ज्यादा डिवाइस इनसे कनेक्ट कर सकते हैं।

नया सिस्टम मौजूदा वाई-फाई के नेटवर्क से 100 गुना ज्यादा तेज वायरलेस इंटरनेट दे सकता है। (Photo: Thinkstock images)

पहले जब इंटरनेट आया था तब उसकी स्पीड इतनी कम थी कि उससे Mp3 गाने भी मुश्किल से डाउनलोड हुआ करते थे। उसके बाद 2G इंटरनेट आया तो उसकी स्पीड थोड़ी सी ठीक थी उससे गाने तो डाउनलोड कर सकते थे लेकिन फिल्म डाउनलोड करना उससे भी बहुत मुश्किल था। लेकिन जो बीएसएनएल या एमटीएनएल के वायर वाले इंटरनेट थे उनकी स्पीड मोबाइल के नटवर्क की तुलना में ठीक थी लेकिन उनके साथ यह दिक्कत थी कि जब भी सड़क पर थोड़ा भी काम होता या कहीं से वायर कट जाती तो कई दिन तक इंटरनेट और फोन दोनों ही बंद रहते। धीरे धीरे इसमें सुधार हुआ और इस दिक्कत को भी काफी हद तक दूर कर लिया गया। आजकल वायर कटने या किसी और कारण से वायर वाले इंटरनेट में ज्यादा दिक्कत नहीं आती हैं और अगर दिक्कत आती भी है तो उसे बहुत जल्द ही ठीक कर लिया जाता है। उसके बाद फिर फाइबर ऑप्टिकल केवल आईं जिससे इंटरनेट की स्पीड में बहुत सुधार हुआ।

अब वैज्ञानिकों ने ऐसी इन्फ्रारेड किरणें डिवेलप की हैं जो मौजूदा वाई-फाई के नेटवर्क से 100 गुना ज्यादा तेज वायरलेस इंटरनेट दे सकती हैं। ये इन्फ्रारेड रेज नुकसानदेह भी नहीं हैं आप मौजूदा वाई-फाई नेटवर्क की तुलना में ज्यादा डिवाइसेज इनसे कनेक्ट कर सकते हैं। वाई-फाई अगर स्लो हो तो बहुत दिक्कत होती है। क्योंकि अब इंटरनेट की स्पीड से आप किसी भी तरीके का कोई समझौता करना पसंद नहीं करते। दरअसल बहुत सारे डिवाइसेज जब किसी वाई-फाई नेटवर्क से जुड़ते हैं तो वह स्लो हो जाता है। मगर रिसर्चर्स का कहना है कि नए सिस्टम में कंजेशन नहीं बढ़ता।

नीदरलैंड्स में इंडोफेन यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नॉलजी के रिसर्चर्स ने जो नया वायरलेस नेटवर्क डिवेलप किया है, उसकी कैपेसिटी बहुत ज्यादा है। यह 40 गीगाबाइट्स प्रति सेकंड की स्पीड देता है। इसमें नेटवर्क कंजेशन इसलिए नहीं होता क्योंकि हर डिवाइस को अलग किरण से कनेक्टिविटी मिल रही होती है। रिसर्चर्स का कहना है कि नया सिस्टम काफी सिंपल है और सेटअप करने में भी आसान है। वायरलेस डेटा सेंट्रल लाइट ऐंटेनाज़ से आता है। इसमें ऐंटेनाज वाले सिस्टम को छत पर लगाया जा सकता है, जहां से आसानी से इन्फ्रारेड रेज को डिवाइस की तरफ डायरेक्ट किया जा सकता है।

 

ये हैं सबसे सस्ते डूअल कैमरा वाले स्मार्टफोन, देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 20, 2017 5:57 pm

  1. No Comments.
सबरंग