ताज़ा खबर
 

स्मार्टफोन की बैटरी के लिए खतरनाक हैं ये ऐप्स, कम कर देते हैं बैटरी का बैकअप

RAM क्लीन करने वाले या बैटरी सेव करने वाले ऐप्स भी ज्यादा बैटरी खर्च करते हैं।
फेसबुक ही नहीं, मेसेंजर ऐप भी फोन की बैटरी को खत्म करने में बड़ी भूमिका निभाता है। (Photo: Youtube)

स्मार्टफोन का बैटरी बैकअप यूजर के लिए सबसे बड़ी समस्या है। इसका पूरी तरह से कोई हल नहीं निकल पाया है लेकिन इस समस्या से कुछ हद तक निजात पाया जा सकता है। बहुत सारे स्मार्टफोन यूजर्स बैटरी जल्दी खत्म होने की समस्या से परेशान रहते हैं। बैटरी कितनी देर तक बैकअप देती है, यह बात फोन के स्पेसिफिकेशंस और इस्तेमाल पर निर्भर करती है। स्मार्टफोन्स के जरिए हम कई सारे काम करते हैं। गाने सुनते हैं, विडियो देखते हैं, गेम्स खेलते हैं और कई तरह के ऐप्स इस्तेमाल करते हैं। जाहिर है कि सब तरह के ऐप्स इस्तेमाल करने से बैटरी खर्च होती है, मगर इस मामले में कुछ ऐप्स का प्रदर्शन ज्यादा ही खराब है। आइए जानते हैं किन ऐप्स के इस्तेमाल से बचने पर स्मार्टफोन ज्यादा बैटरी बैकअप दे सकता है।

बैटरी सेवर ऐप्स: आपको यह जानकर हैरानी होगी कि रैम क्लीन करने वाले या बैटरी सेव करने वाले ऐप्स भी ज्यादा बैटरी खर्च करते हैं। दरअसल ये ऐप्स बैकग्राउंड पर रन करते रहते हैं। तब भी, जब आप फोन को इस्तेमाल न कर रहे हों। ये ऐप्स हेंडसैट को लगातार स्कैन करते रहते हैं और जंक फाइल्स वगैरह को क्लीन करते रहते हैं।

सोशल मीडिया ऐप्स: फेसबुक सबसे पॉप्युलर स्मार्टफोन ऐप है, मगर यह बैटरी भी ज्यादा खर्च करता है। यह ऐप बैकग्राउंड में रन करते रहते हैं, ताकि आपको नोटिफिकेशंस मिलते रहें। फेसबुक ही नहीं, मेसेंजर ऐप भी फोन की बैटरी को खत्म करने में बड़ी भूमिका निभाता है। स्नैपचैट, स्काइप और इंस्टाग्राम जैसे हेवी सोशल मीडिया ऐप्स भी यही करते हैं।

ऐंटी वाइरस ऐप्स: बैटरी सेवर और रैम मैनेजमेंट ऐप्स की तरह ऐंटी-वाइरस ऐप्स भी बैकग्राउंड में रन करते रहते हैं, ताकि मोबाइल को खतरों से बचा सकें। स्कैन करने में ये जितना ज्यादा वक्त लेंगे, बैटरी उतनी ही तेजी से खर्च होगी। कुछ ऐंटी वाइरस ऐप्स तो कैमरा का भी ऐक्सस हासिल कर लेते हैं, ताकि आपका हैंडसेट अनलॉक करने की कोशिश करने वाली की तस्वीर ले सके। यह अच्छा फीचर तो है, मगर बैटरी को जल्दी खत्म करता है।

फोटो एडिटिंग ऐप्स: अगर आपको तस्वीरें लेकर एडिट करने का शौक है तो आपके स्मार्टफोन में जरूर फोटो एडिटिंग ऐप्स होंगे। ये ऐप्स हेवी होते हैं और इमेज वगैरह प्रोसेस करने में बहुत पावर इस्तेमाल करते हैं। इसलिए या तो इन ऐप्स को कम इस्तेमाल करें या फिर पावर बैंक लेकर चलें।

 

ये हैं सबसे सस्ते डूअल कैमरा वाले स्मार्टफोन, देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.