January 16, 2017

ताज़ा खबर

 

रिलायंस जियो सिम के ‘कोड जेनरेट’ सिस्टम को कर देगी बंद, फिर ऐसे मिलेंगे सिम

मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस जियो इन्फोकॉम ने पांच सितंबर से अपनी 4जी सेवाओं की शुरुआत की थी।

Author | October 2, 2016 20:52 pm
रिलायंस जियो ने 5 सितंबर से अपनी कमर्शियल सर्विस शुरू की है।

लगभग महीने भर पहले दूरसंचार सेवाएं शुरू करने वाली कंपनी रिलायंस जियो को उम्मीद है कि ‘थोड़े ही दिनों’ में उसके सिम पूरे देश में ग्राहकों को सामान्य तरीके से मिलने लगेंगे और इसके लिए कतार या प्रतीक्षा नहीं करनी होगी। सिम मांग सामान्य होने पर कंपनी 4जी स्मार्टफोन से ‘कोड जेनरेट’ करने की मौजूदा अनिवार्यता को भी समाप्त कर देगी। मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस जियो इन्फोकॉम ने पांच सितंबर से अपनी 4जी सेवाओं की शुरुआत की थी। तभी से जियो के सिम के लिए मारामारी है और भावी ग्राहकों को लंबी कतारों में लगना पड़ रहा है।

वीडियो- जियो सिम से संबंधित ये बातें जरूर जानें

कंपनी का कहना है कि वह वास्तविक ग्राहकों को सिम उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए अनेक कदम उठा रही है। उसने सिम एक्टिवेशन के लिए अत्यधुनिक प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया है जिससे उसे उम्मीद है कि उसके सिम के लिए ग्राहकों की परेशानी दूर होगी। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने स्वीकार किया कि जियो सिम को लेकर ग्राहकों का रूझान कंपनी की अपेक्षाओं से कहीं अच्छा रहा लेकिन कंपनी मांग को पूरा करने के लिए तैयार है। इस समय कंपनी हर दिन ‘बड़ी संख्या में’ सिम जारी कर रही है। दूरसंचार विभाग की बाध्यताओं के चलते वह एक सीमा से अधिक सिम जारी नहीं कर सकती। अधिकारी ने हालांकि जारी किए जाने वाले सिम की संख्या नहीं बताई।

Read Also: अब 3जी फोन यूजर्स भी चला पाएंगे जियो इंटरनेट, कंपनी लाई यह नई डिवाइस

उन्होंने कहा कि चूंकि इस साल के आखिर तक उसकी सारी सेवाएं मुफ्त हैं इसलिए सिम की मांग ज्यादा है। यह अवधि समाप्त होने यानी नए साल से रुख थोड़ा बदलेगा और वास्तविक ग्राहक ही सामने आएंगे तो सिम की मांग युक्तिसंगत होगी। एक बार मांग सामान्य होने पर कंपनी 4जी स्मार्टफोन से ‘कोड जेनरेट’ करने की अनिवार्यता समाप्त कर देगी और यह सामान्य सिम की तरह मिलेगा।

Read Also: दगा दे रही रिलायंस जियो 4जी की स्‍पीड, 21 दिन में ही यह हाल है तो 31 दिसंबर के बाद क्‍या होगा?

बता दें, कंपनी ने हाल ही में आनलाइन खुदरा कंपनी शापक्लूज से गठजोड़ किया है। इसके तहत इस पोर्टल के जरिए चुनींदा फोन खरीदने वालों को जियो की सिम मुफ्त मिलेगी। इसके अलावा इसका सिम रिलायंस डिजिटल, डिजिटल एक्सप्रेस व डिजिटल एक्सप्रेस मिनी स्टोर से नि:शुल्क लिया जा सकता है। सोशल मीडिया में इस तरह की अफवाहें है कि जिस स्लाट में जियो सिम इस्तेमाल कर ली वह लॉक हो जाएगा और बाद में उसमें किसी और कंपनी का सिम काम नहीं करेगा। अधिकारी ने इन सारी अफवाहों को ‘बुनियाद, दुष्प्रचार व असत्य’ बताते हुए खारिज कर दिया और कहा कि तकनीकी रूप से ऐसी कोई स्थिति संभव नहीं है। कंपनी ने ‘कोड जेनरेट’ करने की बाध्यता भी इसी लिए लागू की है ताकि सिम केवल उन्हीं लोगों को मिले जिनके पास 4जी फोन है या एक ही फोन पर कई सिम नहीं ले लिए जाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 2, 2016 8:52 pm

सबरंग