December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

करते हैं वाईफाई का इस्तेमाल तो चोरी हो सकता है आपका डेटा, जानिए कैसे

अपनी बिना जानकारी के ही हैकर्स आपका सारा डेटा चुरा सकते हैं। इसलिए जरूरी है कि आप इन 7 वाईफाई सिक्योरिटी खतरों के बारे में जान लें।

सांकेतिक तस्वीर।

आमतौर पर लोग पब्लिक वाईफाई को बिना कुछ सोचे-समझे मोबाइल से कनेक्ट कर लेते हैं। अधिकतर लोग उनकी डिवाइस को इससे होने वाले खतरे से अनजान रहते हैं। अपनी बिना जानकारी के ही हैकर्स आपका सारा डेटा चुरा सकते हैं। इसलिए जरूरी है कि आप इन 7 वाईफाई सिक्योरिटी खतरों के बारे में जान लें।

1. डिजिटल वायरस बड़ी ही आसानी से आपके कंप्यूटर या डिवाइस में घुस सकते हैं। Worms एक तरह के कंप्यूटर वायरस हैं जो आपकी डिवाइस को स्लो कर सकते हैं। अगर एक फ्री वाई-फाई डीटेल चुराने की मंशा से बनाया गया है, तो वह आपको एक अपडेट इन्स्टॉल करने के लिए कहेगा जिसे इन्स्टॉल करने पर हैकर को आपका सारा पर्सनल डेटा मिल जाएगा।

2. पब्लिक वाई-फाई या अनसिक्यॉर्ड नेटवर्क पर बैठकर शॉपिंग करना एक बहुत खतरों से भरा टास्क है। नकली वाईफाई एक्सेस प्वाइंट किसी भी वायरलैस डिवाइस के लिए खतरा हो सकता है। जैसे ही कोई यूजर अनसिक्योर बैंक या ईमेल अकाउंट ओपन करता है, हैकर पूरी टांजेक्शन कॉपी कर लेता है।

वीडियो में देखिए, Xiaomi रेडमी 3S प्राइम का रिव्यू

3. कई बार हैकर्स नकली नाम के वाईफाई नेटवर्क जैसे ‘free network’, ‘no password’ बना लेते हैं। इनका नाम पढ़कर यूजर्स काफी आकर्षित होते हैं और जैसे ही अपनी डिवाइस कनेक्ट करते हैं उनका सारा डेटा चोरी हो जाता है।

4. अपनी डिवाइस की सिक्योरिटी कभी भी कम ना होने दें, ऐसा करना हैकरों के लिए खुले निमंत्रण जैसा हो जाता है। हमेशा फोन या लैपटॉप में लेटेस्ट एंटी वायरस और लेटेस्ट ओपरेटिंग सिस्टम रखें।

5. पब्लिक वाई-फाई में पासवर्ड की कमी से आपका डेटा इन्टरसेप्ट करना दूसरों के लिए आसान हो जाता है। फ्री नेटवर्क्स से दूर रहना ही सबसे सुरक्षित है। हालांकि, अगर आपको यूज करना ही है, तो प्रोवाइडर से उसकी ऑथेंटिसिटी चेक कर लें, तभी पैसों का लेनदेन या ऑनलाइन शॉपिंग करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 11, 2016 5:35 pm

सबरंग