March 27, 2017

ताज़ा खबर

 

बाखबर: गाइए मोदी जग वंदन

पत्रकार आरती जैरथ एनडीटीवी पर कहती हैं कि नोटबंदी पर हमारी समझ गलत निकली। शेखर गुप्ता कहते हैं कि हम लोग गलत रहे, मोदी सही रहे।

Author March 12, 2017 05:04 am
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (photo source- Indian Express)

रह मार्च की सुबह है!
नमो नमो नमो नमो मोदी मोदी मोदी मोदी, हर हर मोदी हर हर मोदी… आरती जारी है।
एंकर, विश्लेषक, विपक्षी सब मोदी को नमन कर रहे हैं। नमो नमो नमो नमो नमो नमो…।
ओम जय नमो नमो, भक्त जनन के संकट क्षण में कमो कमो ओम जय नमो नमो…
अहंकार अब भी बचा है। ‘हार नहीं मानूंगा’ चेहरों पर लिखा है, मगर एंकर जब कहते हैं कि अब तो कह दो नमो नमो, तो मन मार कर कहना पड़ रहा है नमो नमो नमो नमो।
एंकर मस्त हैं, गाने लगे हैं नमो नमो नमो नमो।
कांग्रेस के संदीप दीक्षित साफ कहते हैं- हमारी गलतियां रही हैं।
हर वोट में मोदी, हर चोट में मोदी मोदी मोदी। भजन जारी है, हर चैनल पर जारी है।
ग्यारह मार्च है। हार-जीत हो चुकी है। हारे हुए चेहरे कुम्हलाए दिखते हैं। जीतने वाले नाचे जा रहे हैं। कैमरे भाजपा के कार्यालय की ओर नहीं दौड़ रहे हैं।
लखनऊ में मोदी भक्त हर हर मोदी हर हर मोदी गाए जा रहे हैं!

कुछ देर बाद कैमरे कार्यालयों की ओर रुख करेंगे या सबके नेता स्टूडियो में हार का समाजशास्त्र बताएंगे कि हम हारे तो इस कारण, वे जीते तो इस कारण!
हारने वाले बार-बार हारते हैं। परिणामों में हारने के बाद जीतने वाले को श्रेय नहीं देकर फिर से हारते हैं, फिर जीतने वाले उनको कायल कर कर के हराते हैं!
हर चैनल अपने अपने विश्लेषण को बेच रहा है। एंकर अपने विशेषज्ञों को सजा कर बैठे हैं, जो बीच-बीच में हारने वालों को एक-एक लाइन में चोट मारते हैं और हंसते हैं। हर एंकर हंस रहा है।
बस देखते रहिए। देखते रहिए। देखते रहिए। दल सत्ता के लिए लड़ रहे हैं, चैनल दर्शकों को रिझाने के लिए लड़ रहे हैं। दर्शक मोदी के भक्त हुए जा रहे हैं।
नमो नमो नमो नमो नमो नमो नमो नमो का कीर्तन चल रहा है। भाजपा की होली शुरू है लखनऊ में।
इंडिया टुडे पर राजदीप पहले मोदी का कार्टून दिखाते हैं कि वे उछल कर यूपी की सीट पर बैठ जाते हैं, फिर अमरिंदर पंजाब की कुर्सी पर बिराजते दिखते हैं।
परिणामों को मनोरंजक बनाने का राजदीप का अपना तरीका है। यह किसी और के पास नहीं है!
नौ मार्च की शाम से पांच पांच एक्जिट पोल विश्लेषित किए गए हैं। जो जीतते नजर आते हैं, उनके चेहरे खिल जाते हैं, जो हार रहे दिखते हैं, वे साफ कह देते हैं एक्जिट पोल झूठ बोलते हैं।
चैनलों ने चुनाव प्रचार के दौरान अपने-अपने इष्ट दल को खूब दुलराया है, लेकिन ग्यारह मार्च की सुबह से एंकर अपने को तटस्थ दिखाने में लगे हैं, ताकि उनका विश्लेषण बिक सके।

नेताओं के चेहरे तनाव भरे हैं, एंकरों-रिपोर्टरों के चेहरे मस्त हैं, क्योंकि आज के दिन ही उनके दावों की परीक्षा होनी है।
ग्यारह मार्च की सुबह पहले रिजल्ट्स की बूंदाबांदी नजर आई। दस, पंद्रह, पच्चीस, पचास, सौ… एक घंटे बाद झड़ी लग गई और ग्यारह बजे तक भाजपा यूपी में दो-तिहाई सीटों का आंकड़ा पार कर गई।
राजदीप कह रहे हैं कि एक्जिट पोल तक तो आप वालों ने मुझे बिकाऊ कहा, लेकिन अब हम पूछेंगे कि अगर जीते तो क्या अपनी राय बदलेंगे।
चुनाव सबसे बड़ा ‘एक्शन थ्रिलर’ है। उत्तेजना है, उत्साह है, जिज्ञासा है। हर दर्शक उत्कंठित है।
साढ़े दस तक मोदी मोदी का भजन तेज हो गया है। गोवा, मणिपुर और पंजाब में कांग्रेस आगे नजर आती है, लेकिन हर एंकर सावधान करता है कि गोवा में अब भी बराबर की टक्कर लगती है।
दो सौ अस्सी सीटों के पास पहुंचते ही एंकरों ने यूपी में भाजपा के सीएम को खोजना शुरू कर दिया है।
हर चैनल पूछता फिर रहा है कि यूपी में कौन बनेगा सीएम? महत्त्वाकांक्षियों की कामनाएं जोर मारती दिखती हैं।
जैसे ही योगी आदित्यनाथ जीत की व्याख्या करके विदा होते हैं, केशव प्रसाद मौर्य जीत की अपनी व्याख्या करने आ जाते हैं।
एंकर पूछने लगते हैं कि कौन बनेगा यूपी का सीएम? प्रवक्ता खुद नहीं जानते कि कौन बनने वाला है। पत्रकार अशोक मलिक कहते हैं, बनेगा तो पूर्वी यूपी से बनेगा!

हारने-जीतने के कारणों पर चर्चाएं शुरू हैं।
पत्रकार आरती जैरथ एनडीटीवी पर कहती हैं कि नोटबंदी पर हमारी समझ गलत निकली। शेखर गुप्ता कहते हैं कि हम लोग गलत रहे, मोदी सही रहे।
यूपी में भाजपा दो सौ अस्सी सीट तक लेती दिख रही है। मौर्य दो हजार उन्नीस में मोदी को अभी से जिताते दिख रहे हैं।
कांग्रेस के अभिषेक कहते हैं कि यह मोदीजी की जीत है। नोटबंदी की मोदी कहानी जीती है।
शेषाद्रिचारी कहते हैं मोदी एक कार्यकर्ता हैं, एक नेता भी हंै, रणनीतिकार हैं, हार्डवर्किंग हैं! दो हजार उन्नीस में एक ओर मोदी रहेंगे, दूसरी ओर कोई नहीं नजर आता। नमो नमो जी नमो नमो। नमो नमो जी नमो नमो, नाम जप नाम जप नाम जप बावरे!
गाइए मोदी जग वंदन।

 

विधानसभा चुनाव 2017: पांचों राज्यों के नतीजे आने के बाद किसने क्या कहा

Click to use this vi

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 12, 2017 5:04 am

  1. S
    SriRam
    Mar 12, 2017 at 10:09 pm
    आरती कीजे मोदीजी की... हिटलर जी के अग्रज जी की .....
    Reply

    सबरंग