December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

तुम बिन 2 रिव्यू: प्यार, दोस्ती की कहानी है तुम बिन 2, बेहतरीन कहानी और उम्दा एक्टिंग के लिए देखें फिल्म

Tum Bin 2 Review: तुम बिन 2 की कहानी शानदार होने के साथ ही सभी स्टार्स ने अच्छी एक्टिंग की है। इसमें पहली फिल्म की तरह ही शेखर और अमन के बीच लव ट्रांयगल को दिखाया गया है।

फिल्म तुम बिन 2 के निर्देशक अनुभव सिन्हा हैं।

तुम बिन 2 2001 में आई फिल्म तुम बिन का सीक्वल है। इसमें नेहा शर्मा, आदित्य सील, कंवलजीत सिंह, फराह अहमद और आशिम गुलाटी हैं। अभिनव सिन्हा के निर्देशन में बनी फिल्म में अंकित तिवारी ने म्यूजिक दिया है। फिल्म का बहुत सा हिस्सा स्कॉटलैंड में शूट किया गया है। निर्देशन की तुम बिन को शुरुआत में लोगों ने पसंद नहीं किया था। हालांकि बाद में धीरे-धीरे इसके दर्शक बढ़े और यह उस साल की हिट फिल्म बनीं। उस साल जगजीत सिंह का फिल्म के लिए गाया गाना लोगों पर जुबान पर था। ऐसी ही कुछ उम्मीद तुम बिन 2 से भी की जा रही है। सिन्हा ने कुछ समय पहले रा वन डायरेक्ट की थी जो बॉक्स ऑफिस पर ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाई थी। लेकिन हाल ही में आई गुलाब गैंग को लोगों ने काफी सराहा था। इस फिल्म से आदित्य सील अपनी रोमांटिक इमेज में वापसी कर रहे हैं। इससे पहले वो एक छोटी सी लव स्टोरी में मनीषा कोईराला के साथ दिखे थे।

मिलिए फिल्म ‘तुम बिन 2’ की स्टारकास्ट से

तुम बिन 2 की कहानी शानदार होने के साथ ही सभी स्टार्स ने अच्छी एक्टिंग की है। इसमें पहली फिल्म की तरह ही शेखर और अमन के बीच लव ट्रांयगल को दिखाया गया है। दोनों के बीच पुरानी दोस्ती, नया प्यार और कठिन फैसले जैसी परिस्थितियों को दिखाया गया है। इसमें दिखाया गया है कि किस तरह आप अपनी जिंदगी के बारे में महत्वपूर्ण फैसला लेते समय किसी एक शख्स की वजह से कंफ्यूज हो जाते हैं। कई लोग आपको इस मामले में कंविंस करने की कोशिश करते हैं। लेकिन एक सही जिंदगी जीने के लिए आपका खुद एक निर्णय लेना जरूरी होता है। पहली फिल्म की तरह इसका म्यूजिक उतना अच्छा नहीं है लेकिन ड्रामा आपको आखिर तक बांधे रखेगा।

फिल्म की शुरुआत एक इमोशनल नोट के साथ होती है जिसमें तरण (नेहा शर्मा) अपने प्यार अमर को एक एक्सीडेंट में खो देती है। दुखी और तनाव में जीने वाली तरण हर तरह की उम्मीद खो देती है। तरण अपने दुख के साथ जीना चाहती है जबकि उसका परिवार उसे जिंदगी में आगे बढ़ते हुए देखना चाहता है। वो चाहते हैं कि वो एक नई शुरुआत करे। अमर की यादें उसे हर पल सताती हैं। जिस तरह हर अंधेरे के बाद रोशनी आती है उसी तरह शेखर उसकी जिंदगी में आता है। शेखर को तरण की हालत के बारे में पता है। धीरे-धीरे दोनों एक-दूसरे की कंपनी को एंज्यॉय करने लगते हैं। लेकिन कहते हैं ना कि पहला प्यार भुलाना काफी मुश्किल होता है। इसी वजह से तरण कोई फैसला नहीं ले पाती हैं। क्या वो अमर को भूलकर शेखर को अपना पाएगी? क्या वो अमर की तरह शेखर को प्यार कर पाएगी? इसी उधेड़बुन की कहानी है तुम बिन 2।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 18, 2016 10:26 am

सबरंग