December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

जॉन अब्राहम और सोनाक्षी सिन्हा की फोर्स-2 में है जबरदस्त एक्शन, लेकिन फिल्म में कुछ नया भी है? पढ़ें रिव्यू

फोर्स 2 मूवी रिव्यू: यशवर्धन के किरदार में जॉन अब्राहम काफी जंच रहे हैं। अपनी मसल पावर और डायलॉग के जरिए वो लोगों को कंविंस करते हुए दिख रहे हैं। केके के किरदार में सोनाक्षी काफी नैचुरल लग रही हैं।

सोनाक्षी और जॉन के एक्शन से भरी हुई फिल्म है फोर्स-2।

अभिनव देव के निर्देशन में बनी फोर्स-2, 2011 में आई फोर्स का सीक्वल है। जहां पहली फिल्म साउथ इंडियन फिल्म की रीमेक थी वहीं सीक्वल एकदम ओरिजनल है। इसमें एक्शन और बदले की भरपूर कहानी है। इतना कुछ होने के बाद भी यह एक साधारण सी कहानी नजर आती है। फिल्में हमें आखिरी तक जोड़े रखती हैं। फिल्म में हर फिल्म में एक किरदार दिखाया जाता है जो गलत है और वो अपनी फ्रस्ट्रेशन निकालता है। फोर्स-2 में भी एक किरदार है रुद्र प्रताप सिंह उर्फ शिव शर्मा का जो देश की इंटैंलिजेंस सर्विस रॉ को खत्म करने के मिशन पर है। उसे रोकने की कोशिश करते हैं एसीपी यशवर्धन उर्फ यश और इंटैलिजेंस ऑफिसर कंवलजीत कौर उर्फ केके। फिल्म की कहानी शुरू होता है शंघाई से जहां कुछ रॉ एजेंट्स को मार दिया जाता है लेकिन अंजान दास रॉ के हेड को छोड़ दिया जाता है। इसके बाद एसीपी यशवर्धन को अपने एक मरे हुए दोस्त से गिफ्ट के तौर पर कोडेड मैसेज मिलता है। जिसके बाद उन्हें अहसास होता है कि उनके दोस्त के साथ एंजेसी के किसी शख्स ने विश्वासघात किया है। अपने दोस्त का बदला लेने के लिए और दूसरे रॉ एजेंट्स को मरने से बचाने के लिए यश रॉ को अपनी सेवा देता है। अंजान दास उन्हें मिशन पर भेजने के लिए तैयार हो जाते हैं। लेकिन इसके बाद वो उनके साथा केके नाम की ऑफिसर को उनकी टीम लीडर के तौर पर नियुक्त कर देते हैं। इसके बाद मेन किरदार बुचारेस्ट जाते हैं जहां ढेर सारे एक्शन सीन फिल्माए गए हैं।

‘कॉमेडी नाइट्स बचाओ’ शो बीच में ही छोड़कर क्यों गए जॉन अब्राहम?

यशवर्धन के किरदार में जॉन अब्राहम काफी जंच रहे हैं। अपनी मसल पावर और डायलॉग के जरिए वो लोगों को कंविंस करते हुए दिख रहे हैं। केके के किरदार में सोनाक्षी काफी नैचुरल लग रही हैं। उनकी यश और दूसरे टीम मेट्स के साथ कोमिस्ट्री काफी अच्छी लग रही है। दोनों साथ में एकदम परफेक्ट बडी लग रहे हैं जो साथ में किसी मिशन पर निकले हैं। ताहिर राज भसीन फिल्म के सरप्राइज पैकेज हैं। वो अपनी एक्टिंग के जरिए लोगों को चौंका देंगे। लेकिन हम भारतीयों को विलेन लार्जर दैन लाइफ वाला चाहिए होता है इसी वजह से वो थोड़ा निराश करते हैं।

राजनेता के तौर पर आदिल हुसैन, नरेंद्र झा अंजन दास के तौर पर और बोमन ईरानी रुद्र प्रताप सिंह के पिता के तौर पर दिखाई देंगे। सभी ने प्रभावपूर्ण तरीके से अपने रोल को निभाया है। तकनीकी तौर पर देखा जाए तो फिल्म काफी उम्दा बनी है। पकड़ने और एक्शन सीन को बहुत बेहतरीन तरीके से कोरियोग्राफ किया गया है। फिल्म की एडिटिंग भी जबर्दस्त की गई है। पूरी तरह से फोर्स-2 ऐसा कुछ भी नहीं दिखाती है जो आपने कभी ना देखा हो। हालांकि यह आपका मनोरंजन जरूर करेगी। जॉन और सोनाक्षी के फैंस के लिए यह फिल्म आदर्श है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 18, 2016 9:37 am

सबरंग