ताज़ा खबर
 

प्रेम और भावनाओं पर असर डालता है शुक्र ग्रह, जानिए दूसरे ग्रह किस तरह करते हैं शरीर पर असर

ज्योतिषियों का कहना है कि हर ग्रह हमारे शरीर पर असर डालता है।
सांकेतिक फोटो

ज्योतिषियों का कहना है कि कुंड़ली में बैठे ग्रहों से हमारे बारे में बहुत सारी बातें बताई जा सकती हैं। जातक की कुंड़ली को देखकर उसके भविष्य के बारे में जानकारी दी जा सकती है। आज हम आपके लिए लाए हैं हर ग्रह के बारे में खास जानकारी, जिनसे आपके शरीर पर असर पड़ता है।
जिस प्रकार management में एक शब्द आता है SWOT ANYLYSIS अर्थात आपके strengths weakness opportunity and threat.

आइये जानते है, विभिन्न ग्रह हमारे शरीर के किन किन भावनाओं से सम्बंधित हैं, आपकी चेतना किन-किन स्तरों एवं किन कर्मों से कहाँ तक पहुची है, यह सूर्य है।

सूर्य – आपकी आत्मा का बल ही सूर्य है।

चंद्र – चंद्र आपकी मनोस्थिति है। विचार,भावनाएं,आंसू , जल तत्व शरीर का चंद्र है।

मंगल – मंगल आपकी शारीरिक बल ऊर्जा है, परिस्थितियों से लड़ने की क्षमता है। शरीर का रक्त ही मंगल है।

बुध – बुध आपकी शरीर की त्वचा और आंतरिक तौर पर वाणी उच्चारण समझने की क्षमता बुद्धि है|

गुरु – गुरु आपका विवेक ज्ञान पाचन, लिवर एवं शुभ विचार है ।

शुक्र-  शुक्र आपका प्रेम, सौन्दर्य , भोग, भावना, स्त्रियो के प्रति दृष्टिकोण है।

शनि- शनि आपका श्रम है। आपके बाल, नाख़ून अर्थात dead cells, आपकी नसे, दुःख के समय भी स्थिरता /ठहराव ही शनि है।

राहु-  राहु आपकी तार्किकता है। समाज विरोधी, समूह विरोधी धारणाएं, मोह, नशा है, फिर चाहे धन, स्त्री, शराब किसी का भी हो। भ्रम ही है, आपका राहु।

केतु-  केतु आपकी पूर्व धारणाओं की कट्टरता है। भोग की, त्याग की और मोक्ष की कामना है।

ज्योतिषियों का कहना है कि मानव जीवन में हर ग्रह का अपना महत्व होता है। अगर किसी व्यक्ति की कुंड़ली में कोई ग्रह कमजोर है तो उस व्यक्ति को उस ग्रह की पूजा करने की सलाह दी जाती है। हर ग्रह किसी ना किसी दिन का स्वामी माना जाता है। जैसे की सोमवार को भगवान शिव जी का ग्रह माना जाता है तो वहीं मंगलवार को हनुमान जी का दिन माना जाता है। रविवार के दिन को सूर्य देव का दिन ंमाना जाता है। बुधवार को गणेश जी, गुरुवार को बृहस्पति, शुक्रवार को शुक्र और शनिवार के दिन को शनि देवता का दिन माना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग