ताज़ा खबर
 

हनुमान जी की पूजा करने की सरल विधि

जानकार मानते हैं कि सूर्योस्त के बाद हनुमान जी की पूजा करना शुभ माना जाता है।
हनुमान जी की मूर्ति के सामने दीपक जलाते समय ऊँ रामदूताय नम: मंत्र का जाप करना चाहिए।

मंगलवार को हनुमान जी का दिन कहा जाता है। ज्योतिषियों का मानना है कि जो लोग इस दिन सच्चे मन से हनुमान जी पूजा करते हैं उन पर हनुमान जी अवश्य खुश होते हैं। कहा जाता है कि हनुमान जी की पूजा करने से शनि दोष भी दूर होते हैं। लेकिन हनुमान जी पूजा करते समय विशेष ध्यान रखना चाहिए। हनुमान जी की पूजा करते समय साफ-सफाई और पवित्रता का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

जानकार मानते हैं कि सूर्योस्त के बाद हनुमान जी की पूजा करना शुभ माना जाता है। हनुमान जी को खुश करने के लिए शाम को स्नान करने के बाद हनुमान जी की मूर्ति के सामने आसन पर बैठ जाना चाहिए। ध्यान रहे आपको आस-पास साफ-सफाई होनी चाहिए। हनुमान जी की मूर्ति के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए। साथ ही सिंदुर, चमेली का तेल और अगरबत्ती आदि अर्पित करें। इनके साथ ही तांबे का लोटा, जल का कलश, दूध आदि भी हनुमान जी को अर्पित करना शुभ माना जाता है।

हनुमान जी की मूर्ति के सामने दीपक जलाते समय ऊँ रामदूताय नम: मंत्र का जाप करना चाहिए। साथ ही ऊँ पवन पुत्राय नम: मंत्र भी जपना चाहिए। कहा जाता है कि इन मंत्रों के जाप से हनुमान जी खुश होते हैं। ज्योतिषियों का कहना है कि पहली बार चोला चढ़ाने पर ध्यान रखें कि आप शुद्ध वस्त्र धारण करें।

कई ज्योतिषी सलाह देते हैं कि पूजा करने से पहले हाथों में पानी, चावल और फूल लेकर उस दिन, तिथि, वार और वर्ष का नाम बोलें। यह बोलने के बाद पानी को जमीन पर छोड़ दें। अगर घर में कोई पौधा पर तो उसमें पानी छोड़ें। साथ ही अगर आप रूद्राक्ष की माला से हनुमान जी के मंत्र ”ऊँ हं हनुमते नमः“ का 108 बार जाप करते हैं तो भी इसे शुभ माना जाता है।

अगर आप हनुमान जी की पूजा करने से पहले गणेश जी का पूजन करते हैं। तो इसे शुभ माना जाता है। पूजा से पहले गणेश जी की मूर्ति को स्नान करवा दें। मंगलवार को हनुमान जी को खुश करने के लिए हनुमान चालिसा का पाठ जरुर करना चाहिए। हनुमान चालिसा का जाप करने से व्यक्ति के कई कष्ट दूर होते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.