ताज़ा खबर
 

शनि देव को रखना चाहते हैं प्रसन्न, तो भूल कर भी ना करें शनिवार को ये काम, हो सकता है विनाश

शनि देव को एक क्रूर ग्रह माना जाता है, उनकी क्रूर दृष्टि जब किसी पर पड़ती है उसका विनाह निश्चित हो जाता है।
शनि देव (सांकेतिक फोटो)

हिंदू धर्म में शनि देव की बहुत अधिक मान्यता है। शनि देव को मनुष्य के पाप और बुरे कर्मों को दंड देने वाला देवता माना जाता है। शनि देव सूर्य और छाया के पुत्र हैं। शनि देव एक बहुत ही क्रूर ग्रह माने जाते हैं। इनकी क्रूरता कारण इनकी पत्नी द्वारा दिया हुआ अभिशाप है। इसलिए शनि ऐसे ग्रह है जिनके प्रकोप से सब डरते हैं। इन्हें खुश करने के लिए लोग कई तरह के उपाय अपनाते हैं। इनकी दृष्टि अगर किसी पर पड़ जाए तो उसका विनाश हो जाता है। शनि देव की क्रूर दृष्टि से बचने के लिए लोग शनिवार के दिन उन्हें तेल, काले तिल और काला वस्त्र चढा़ते हैं। हर कोई शनि देव को खुश रखने के लिए उपाय अपनाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि शनि देव किन बातों से रुष्ट हो जाते हैं। अगर आप नहीं जानते हैं तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि शनि देव किन बातों से रुष्ट हो सकते हैं और आप पर क्रूर नजर डाल सकते हैं।

शनिवार को भूल कर भी ना करें ये काम-
शनिवार को घर में लोहा और लोहे से बनी कोई चीज लाने से बचना चाहिए।
कुछ पंडित कहते हैं कि इस दिन नमक नहीं खरीदना चाहिए, इससे दरिद्रता आती है।

शनिवार के दिन सरसों के तेल का दान किया जाता है, पर इस दिन सरसों का तेल खरीदना वर्जित बताया गया है।
तेल की ही तरह काली उड़द खरीदने से भी शनिदेव नाराज हो जाते हैं।
काले रंग के जूते नहीं खरीदने चाहिए क्योंकि इसे पहनने वाले को हर कार्य में असफलता मिलती है।
पढ़ाई-लिखाई से जुड़ी चीजें जैसे कागज, पेन और इंक पॉट आदि खरीदने से बचना चाहिए।
किसी भी तरह का चमड़े या जूते का समान ना लें।
जरूरतमंदों और गरीब का गलती से भी ना मजाक बनाए। इससे शनि देव रुष्ट हो जाते हैं।
शनि देव न्याय के देवता हैं वो लोगों को उनके क्रमों को से फल देते हैं।
उनकी मूर्ति से कभी आंख से आंख ना मिलाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग