ताज़ा खबर
 

लाल और हरी मिर्च का सेवन सुधारता है ग्रहों की बिगड़ी हुई चाल

हर वस्तु जब सीमित मात्रा में ग्रहण की जाती है तो वो आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होती है। ऐसे ही अगर लाल मिर्च का इस्तेमाल सीमित मात्रा में किया जाए तो उसके भी अनेक लाभ होते हैं।
लाल मिर्च दान करने जा रहे हैं तो सूखी लाल मिर्च, पाउडर, अचार किसी भी रुप में दान कर सकते हैं।

लाल मिर्च बिगड़े हुए मंगल को सीधा कर देता है। जिन जातकों की कुंडली में मंगल खराब होता है उन्हें लाल मिर्च दान करनी चाहिए। जिन लोगों से संभव हो वो लाल मिर्च से बनी सब्जियों का दान कर सकते हैं। ऐसा ना हो कि अधिक मिर्च का प्रयोग करा जाए, ध्यान रखें कि सही लाल मिर्च की मात्रा मंगल को मजबूत करती है। इसके साथ ही किसी को लाल मिर्च दान करने जा रहे हैं तो सूखी लाल मिर्च, पाउडर, अचार किसी भी रुप में दान कर सकते हैं। एक उपाय ये भी किया जाता है कि लाल मिर्च और गाय का घी मिलाकर पेस्ट बना लें और हड्डियों में दर्द होने पर लाल मिर्च का ये पेस्ट लगाने से राहत मिलती है। इसके साथ ही ये पेस्ट लगाने से गठिया की बिमारी भी नहीं होती है।

हर वस्तु जब सीमित मात्रा में ग्रहण की जाती है तो वो आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होती है। ऐसे ही अगर लाल मिर्च का इस्तेमाल सीमित मात्रा में किया जाए तो उससे रक्त प्रभाव बढ़ता है लेकिन हाई ब्लड प्रेशर वाले लोग इस बात का ध्यान रखें कि आपके लिए ये उपाय नहीं है। ज्योतिष विद्या को हमेशा वैज्ञानिक के दृष्टिकोण से देखा जाएगा जब ही हमें लाभ होता है। लाल मिर्च के अधिक सेवन से पेट की बिमारी होना संभव होता है। इसके साथ ही हरी मिर्च का उपयोग आपके बिगड़े हुए बुध को संभाल सकता है। इसके लिए हरी मिर्च छोटी बच्चियों को देते हैं और वो उन्हें स्वीकारती हैं तो आपके जीवन में बुध के कारण आ रही है समस्याएं ठीक हो जाती हैं।

हरी मिर्च सिर्फ वास्तु ही सही नहीं करता बल्कि इसके साथ ही आपकी सेहत भी ठीक रखती है। हरी मिर्च में विटामिन-सी होता है और इसके शरीर में रक्त संचार ठीक होता है। रक्त ठीक होने से ह्रदय की बीमारियां ठीक होती है। हैजा, डासरिया को ठीक करने में हरी मिर्च हमारे लिए बहुत लाभदायक होती है। पतली और छोटी हरी मिर्च तीखी तो होती हैं लेकिन वही हमारे शरीर के लिए सबसे ज्यादा लाभदायक होती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.