ताज़ा खबर
 

धर्म विशेष की सरकार की तरह काम कर रही है योगी सरकार : बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी

कमेटी के संयोजक जफरयाब जिलानी ने बताया कि लखनऊ में हुई कमेटी की बैठक में इस बात पर चिन्ता व्यक्त की गई कि प्रदेश की योगी सरकार खुद को एक धर्म विशेष के मानने वालों की सरकार समझकर कार्य कर रही है।
उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी (बीएमएसी) ने बुधवार को उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा अयोध्या में सरकारी खर्च से दिवाली मनाए जाने पर सवाल उठाया और आरोप लगाया कि यह सरकार एक धर्म विशेष के मानने वालों की सरकार बनकर काम कर रही है। कमेटी के संयोजक जफरयाब जिलानी ने बताया कि लखनऊ में हुई कमेटी की बैठक में इस बात पर चिन्ता व्यक्त की गई कि प्रदेश की योगी सरकार खुद को एक धर्म विशेष के मानने वालों की सरकार समझकर कार्य कर रही है, जबकि भारत के संविधान के अनुसार सरकार का सम्बन्ध किसी धर्म विशेष से नहीं होता।

उन्होंने बताया कि कमेटी ने योगी सरकार के अयोध्या में इस वर्ष सरकारी स्तर पर दिवाली मनाने तथा सरकारी खर्च से भगवान राम की विशाल मूर्ति बनाने के फैसले को भी देश के धर्मनिरपेक्ष स्वरूप तथा संविधान के अनुच्छेद 27 की सरासर अवहेलना माना है। जिलानी ने बताया कि कमेटी ने मुस्लिम कौम से कहा है कि हालांकि उपरोक्त सभी कार्य असंवैधानिक तथा गैरकानूनी हैं लेकिन मुसलमानों की ओर से इन कार्यों को रोकने या उनमें किसी प्रकार से व्यवधान उत्पन्न करने का प्रयास ना किया जाए।

उन्होंने बताया कि बैठक में अयोध्या के विवादित ढांचा मामले में उच्चतम न्यायालय में चल रहे मुकदमे को लेकर भविष्य की रणनीति तय करने के लिए उन्हें अधिकृत किया गया है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को ही केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार के कार्यों को ‘राम राज्य’ स्थापित करने की दिशा में उठाए गए कदम करार देते हुए कहा कि केन्द्र सरकार के कार्यों से देश के आम नागरिक को जो सुख मिलेगा, वही ‘राम राज्य’ होगा। योगी ने आध्यात्मिक नगरी अयोध्या में दीपावली के भव्य आयोजन के अवसर पर कहा कि प्रधानमंत्री का सपना है कि हर परिवार के सिर पर छत हो। वर्ष 2019 तक अपना व्यक्तिगत शौचालय हो, बिजली हो। यही रामराज्य है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने ‘संकल्प से सिद्धि तक’ का मंत्र दिया है। उनका संकल्प है कि एक ऐसा भारत बने जो गंदगी, गरीबी, जातिवाद, सम्प्रदायवाद, आतंकवाद, नक्सलवाद से मुक्त हो। उन्होंने कहा ‘भगवान राम उस समय के सबसे बड़े आतंक के पर्याय रावण और उसकी सेना को मारकर अयोध्या लौटे थे। आज इस देश को जिस दिशा में प्रधानमंत्री ले जा रहे हैं। निरन्तर विकास की योजनाएं चल रही हैं।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    Bahadur
    Oct 18, 2017 at 11:06 pm
    ये मुल्ले कभी नही बोलते कि बंगाल सरकार धर्म विशेष की सरकार की तरह काम कर रही है। आतंकी कही के
    (0)(0)
    Reply