December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

पैसे जमा कराने बैंक पहुंची थी महिला, नोटों के बंद होने की खबर सुनकर सदमे से हो गई मौत

1000 और 500 रुपये के नोटों के बंद किए जाने की खबर सुनकर गोरखपुर में एक महिल की सदमे से मौत हो गई।

Author नई दिल्ली | November 10, 2016 10:02 am
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर।

केंद्र सरकार ने बीते मंगलवार आधीरात से 1000 और 500 रुपये के नोटों को गैरकानूनी घोषित करते हुए उन पर प्रतिबंध लगा दिया है। यह खबर जैसे ही गोरखपुर की एक महिला को पता चली तो उसकी सदमे से मौत हो गई। हिन्दुस्तान टाइम्ल की एक खबर के मुताबिक 40 साल की तीर्थराजी, खुशीनगर जिले के कप्तानगंज इलाके में अपने बैंक में पैसे जमा कराने पहुंची थी। बैंक बंद मिलने पर उसे पता चला कि सरकार ने 1000 और 500 रुपये के नोट बंद कर दिए हैं। खबर के मुताबिक महिला ने पैसे बचाकर कुल 2000 रुपये इकट्ठा किए थे। महिला के पास 2000 रुपये के छुट्टे पैसे थे जिन्हें वह पहले कभी बैंक से बदलकर 1000 और 500 के नोट लाई थी लेकिन जब वह उन पैसों को बैंक में जमा कराने पहुंची तो नोटों के बैन होने की खबर का सदमा झेल नहीं पाई।

वीडियो: 500 और 1000 रुपए के नोट बंद- मोदी सरकार के फैसले पर क्‍या सोचती है जनता

घटना के बाद खुशीनगर के डीएम शम्भू कुमार ने जानकारी दी कि रेवेन्यू विभाग के अफसरों से महिला के घर पर जाने को कहा है। उनके मुताबिक महिला की मृत्यु अगर सदमे से हुई है तो जरूरी कार्रवाई की जाएगी। तीर्थराजी की मृत्यु होने के बाद उसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं। तस्वीर में महिला के शव के पास कुछ नोट और बैंक अकाउंट की पासबुक पड़ी हुई नजर आ रही है। सरकार के इस फैसले से आम लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। सरकार ने 11 नवंबर तक इन नोटों को अस्पतालों और पेट्रोल पम्पों पर चलाने के आदेश दिए हैं लेकिन यह संस्थाएं इस नियम को लागू करती हुई नहीं नजर आ रहीं जिसकी वजह से लोगों को परेशानियां झेलनी पड़ रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 10, 2016 10:00 am

सबरंग