ताज़ा खबर
 

शर्म की बात है कि मैं इस धरती पर पैदा हुई: ममता बनर्जी

भाजपा पर निशाना साधते हुए ममता बनर्जी ने कहा, "धर्म के नाम पर देश में चल रही असहिष्णुपूर्ण लहर को केवल पश्चिम बंगाल ही रोक सकता है।
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी। (फाइल फोटो)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक रैली के दौरान आज (गुरुवार को) अपने गुस्से का इजहार किया और कहा कि उन्हें शर्म आती है कि वह इस धरती पर पैदा हुईं। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक उन्होंने एक जन सभा में यह बात कही। ममता बनर्जी का यह बयान भारतीय जनता पार्टी के नेता श्यामपदा मंडल के उस बयान के बाद आया है जिसमें भाजपा नेता ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था कि उन्हें यह समझ में नहीं आता है कि वो (ममता बनर्जी) महिला हैं या पुरुष। ममता ने कहा, “इस धरती पर पैदा होकर मैं आज शर्म महसूस कर रही हूं। सभी राज्य केन्द्र की भाजपा सरकार की धमकियों से डर सकती है लेकिन पश्चिम बंगाल कभी चुप नहीं रह सकता, चाहे आप जितना भय का माहौल बना लो।”

भाजपा पर निशाना साधते हुए ममता बनर्जी ने कहा, “धर्म के नाम पर देश में चल रही असहिष्णुपूर्ण लहर को केवल पश्चिम बंगाल ही रोक सकता है। जब मैं देखती हूं कि यह हमारा देश है और यहां ये सब हो रहा है तो मुझे दुख होता है।” इसके अलावा ममता बनर्जी ने कहा, “सभी धर्मों के लोगों को मिलकर और शांति बनाकर रहना चाहिए, न कि तलवारें भांजनी चाहिए।” अपनी यह बात कहने के बाद ममता बनर्जी ने कहा, “शर्म की बात है कि मैं इस धरती पर पैदा हुई।”

मंडल की टिप्पणी पर ममता बनर्जी ने कहा, “जब देश की तरफ नजर उठाकर देखती हूं तो लगता है कि जगह-जगह सांप जहर उगल रहा है।” उन्होंने कहा कि आजकल सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट्स की भरमार है जो लोगों का धर्म पूछ रही है। ममता ने कहा, “भाजपा के नेता मुझे हिजड़ा कहते हैं। मुझे पता है कि उन्हें यह बोलने की हिम्मत कहां से आई है। धर्म के नाम पर ये लोग देशभर में उपद्रव फैला रहे हैं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. P
    Paras Nath
    May 12, 2017 at 2:40 am
    This is very much true. You should have taken birth in Saudi Arab. You should pray almighty God for your rebirth in Saudi Arab.
    (0)(0)
    Reply
    1. शोम रतूड़ी
      May 11, 2017 at 6:58 pm
      ममता जी एक सेल्फमेड राजनेता हैं,वे संघर्ष से उपजी नेता हैं उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि हिंसा में माहिर वामपंथियों को उन्होंने बंगाल से बाहर कर दिया है.लेकिन वोट बैंक के चक्कर में वे जिस तरह से हिन्दुओं पर अत्याचार कर रही हैं वह उनके पतन का कारण बनेगा.टीपू मस्जिद के मौलवी बरकत,जो लगातार समाज में तनाव पैदा कर रहा है,उसे बढ़ावा देकर वे अगले विधान सभा चुनावों में अपनी हार को सुनिश्चित कर रही हैं.बंगाल की जनता प्रबुद्ध है उसने कांग्रेस को सजा दी उसने वामपंथियों को सजा दी अब बारी TMC की है.हालिया चुनावों का ट्रेंड देखें तो बीजेपी बड़ी तेजी से बंगाल में उभर रही है और बंगाल के मतदाताओं ने जब भी मजबूत विकल्प देखा उसे सत्ता दी.कई घोटालों में TMC के बड़े नेताओं के शामिल होने से जनता में उनकी छवि धूमिल होती जा रही है.यह निश्चित है वे अगले चुनावों में अपनी सत्ता गंवां दें तो कोई आश्चर्य नही होगा.
      (0)(0)
      Reply
      1. M
        manas
        May 11, 2017 at 9:07 pm
        ममता की बारे मे कुछ भी बोलना बेकार है। लोग बाम दल से तंग आकर ममता से उम्मिद किय़े थे। ये धोखा महंगा पडेगा।
        (0)(0)
        Reply
      2. A
        Arun
        May 11, 2017 at 5:29 pm
        पहली बार पता चला की ममता जी हिजड़ा है ये जाँच का विषय है
        (0)(0)
        Reply
        सबरंग