December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

छात्रा ने मूर्ति विसर्जन पर ममता बनर्जी को घेरा तो TMC कार्यकर्ताओं ने लगाया हॉर्डिंग, लिखा- शेम ऑन यू

राजबाजार साइंस कॉलेज की एमटेक की फर्स्‍ट ईयर की छात्रा राजश्री चट्टोपाध्‍याय ने 14 अक्‍टूबर को फेसबुक पोस्‍ट के जरिए ममता बनर्जी के दुर्गा पूजा विसर्जन की आलोचना की थी। इसके बाद उनके घर के बाहर 'शेम ऑन यू' का हॉर्डिंग लगा दिया गया।

Author कोलकाता | October 19, 2016 15:12 pm
राजबाजार साइंस कॉलेज की एमटेक की फर्स्‍ट ईयर की छात्रा राजश्री चट्टोपाध्‍याय ने 14 अक्‍टूबर को फेसबुक पोस्‍ट के जरिए ममता बनर्जी के दुर्गा पूजा विसर्जन की आलोचना की थी। (Express photo)

बंगाल में एक एमटेक छात्रा को मूर्ति विसर्जन कार्यक्रम की आलोचना करने पर विरोध का सामना करना पड़ा है। राजबाजार साइंस कॉलेज की एमटेक की फर्स्‍ट ईयर की छात्रा राजश्री चट्टोपाध्‍याय ने 14 अक्‍टूबर को फेसबुक पोस्‍ट के जरिए ममता बनर्जी के दुर्गा पूजा विसर्जन की आलोचना की थी। इसके बाद उनके घर के बाहर ‘शेम ऑन यू’ का हॉर्डिंग लगा दिया गया। इस बारे में राजश्री ने बताया, ”सरकार ने करोड़ों रुपये मंत्रियों के क्‍लबों के पूजा आयोजनों पर करोड़ों रुपये खर्च किए। मुझे यह थोड़ा अजीब लगा जबकि राज्‍य के कर्मचारियों को पैसों की कमी के चलते डीए नहीं मिल पा रहा। पैसों का इस तरह से दुरुपयोग किया जा रहा है। सामान्‍य करदाता की तरह मैंने परिवार में चर्चा के बाद एक सवाल किया था। कुछ लोगों ने इसका सपोर्ट किया जबकि दूसरी लोग पॉइंट से सहमत नहीं हुए। लेकिन यह ठीक है।”

Speed News: जानिए दिन भर की पांच बड़ी खबरें:

रविवार को राजश्री को उसके पड़ोसी ने बताया कि उसके घर के बाहर 5 फीट 7 इंच का हॉर्डिंग लगा दिया गया है। उसी दिन महिलओं का एक दल उसके घर पर आया और सार्वजनिक रूप से माफी मांगने को कहा। राजश्री ने बताया, ”जो महिलाएं मेरे घर के पास इकट्ठी हुईं वे सत्‍ताधारी पार्टी से संबंध रखती हैं। उन्‍होंने बार-बार मुझसे फेसबुक पोस्‍ट के लिए माफी मांगने को कहा। मैंने ऐसा नहीं किया। मेरे पड़ोसी मेरे बचाव में आए और उन्‍हें जाना पड़ा। मैं एसएफआई(वाम छात्र संगठन) को सपोर्ट करती हूं, हो सकता है इसलिए उन्‍हें मेरी पोस्‍ट पच नहीं रही है। क्या मैंने कुछ गलत किया। शुरुआत में मैंने विश्‍वास नहीं किया लेकिन जब मुझे वॉट्सएप पर हॉर्डिंग की फोटो मिली तो मैं चकित रह गई। इससे मुझे 2012 के जाधवपुर यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर का वाकया याद आ गया जब उन्‍हें ममता वनर्जी का कार्टून बनाने पर गिरफ्तार कर लिया गया था।

दुर्गा मूर्ति विसर्जन पाबंदी पर ममता सरकार को कोर्ट से फटकार, कहा- अल्‍पसंख्‍यकों को खुश करने को मनमानी

राजश्री ने आगे बताया, ”यह हमारा पैसा है। मैं किसी विशेष चीज के खिलाफ नहीं हूं लेकिन मुझे राज्‍य की निवासी होने के नाते सवाल करने का पूरा हक है। मैंने नोटिस किया कि ज्‍यादातर क्‍लब जिन्‍हें पैसा मिला और अवार्ड दिया गया वे तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के हैं। यदि वे पर्यटन को बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें पंडाल सुदंरवन और कूच बिहार में लगाना चाहिए।” इस बारे में तृणमूल कांग्रेस के स्‍थानीय पार्षद बापी मित्रा ने कहा कि इस मामले में उनकी पार्टी के लोग शामिल नहीं थे। यह किसी अन्‍य पार्टी की करतूत है।

ममता ने गोरक्षकों को किया आगाह, कहा- ये लोग बताने वाले कौन होते हैं कि मैं क्या खाऊं

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 18, 2016 8:52 am

सबरंग