ताज़ा खबर
 

रामनवमी: बीजेपी, आरएसएस वालों ने पूरे बंगाल में हथियारों के साथ निकाला जुलूस, ममता बनर्जी बोलीं- दूसरों को भड़काओ मत

पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने मंगलवार (चार अप्रैल) को कहा था, "भगवान राम के पास तीर-धनुष होता था। तो उनकी पूजा खाली हाथ कैसे हो सकती है?
Author April 6, 2017 11:18 am
दक्षिणी कोलकाता में बुधवार (पांच मार्च) को रामनवमी रैली निकालते भाजपा कार्यकर्ता। (Source: Express photo by Partha Paul)

पश्चिम बंगाल की सत्ता सीढ़ियां चढ़ने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शायद “राम भरोसे” ही है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने बुधवार (पांच अप्रैल) को जिस तरह भगवा बाना, तलवार और ‘जय श्री राम’ का उद्घोष करते हुए बाइक रैलियां निकाली उससे तो यही लगता है। प्रदेश में राम नवमी पर विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी), राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भाजपा समर्थित 150 से ज्यादा रैलियां निकाली गईं। भाजपा का कहना है कि उसने ये रैलियां पार्टी की हिंदुत्व की बुनियादी विचारधारा को मजबूत बनाने के लिए निकालीं। वहीं राज्य सत्ता में काबिज तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) का मानना है कि भाजपा लोगों को सांप्रदायिक आधार पर बांटना चाहती है।

इनमें से कई रैलियां ऐसे जिलों में आयोजित की गई थीं जहां सांप्रदायिक तनाव का इतिहास रहा है। राजधानी कोलकाता में ही कम से कम 22 ऐसी रैलियां निकाली गईं। पुलिस इन रैलियों को लेकर आशंकित थी फिर भी किसी तरह की हिंसा की घटना की शिकायत नहीं आई है।  रैली में शामिल युवा हाथों में तलवार, चाकू और डंडे इत्यादि लिए हुए थे। ये युवक “जय श्री राम”, “जय बजरंग बली” और  “हर हर महादेव” के नारे लगा रहे थे।

कुछ जगहों पर पोस्टर देखे गए जिन पर अयोध्या में राम मंदिर बनाने की कसम खाने की बात लिखी थी। राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विधान सभा क्षेत्र भवानीपुर के चक्रबेरिया में भाजपा समर्थक सुबह नौ बजे ही इकट्ठा हो गए। उनके हाथों में हथियार भी थे। भाजपा समर्थक अवीक चक्रबर्ती ने कहा, “राम के पास हमेशा हथियार होता है। बगैर हथियार के राम नवमी कैसी?

पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने मंगलवार (चार अप्रैल) को कहा था, “भगवान राम के पास तीर-धनुष होता था। तो उनकी पूजा खाली हाथ कैसे हो सकती है? जब मोहर्रम मनाया जाता है तो लोग ध्रुवीकरण की बात नहीं करते। जब ईद और क्रिसमस मनाया जाता है तो ध्रुवीकरण की बात नहीं होती लेकिन राम नवमी मनाने पर कहते हैं कि ध्रुवीकरण हो रहा है। अगर राम नवमी से ध्रुवीकरण होता है तो होने दीजिए। हम इसे मनाएंगे।”

राज्य के दुर्गापर में आरएसएस की दुर्गा वाहिनी से जुड़ी दर्जनों लड़कियों और महिलाओं ने हथियारों के संग रैली निकाली। खड़गपुर, इस्लामपुर और कोलकाता में रैलियों में शामिल होने वालों की संख्या अच्छी तादाद में थी। हालांकि पश्चिम बंगाल की राजनीति में भाजपा के ये राम प्रेम नया ही है। कुछ राजनीतिक जानकार प्रदेश में पिछले कुछ सालों में हुई सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं को इस प्रेम का प्रेरक मान रहे हैं।

राजस्थान: अलवर में गौ-रक्षकों ने गायों की तस्करी के शक में कुछ लोगों को जमकर पीटा, 1 की मौत

वीडियो: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा- "सूर्य नमस्कार और नमाज एक समान"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. G
    Goutam
    Apr 9, 2017 at 5:35 pm
    Koi mamta didi ko smjwo..bhadkane Ka Kaam kon kar rha 6 se West Bengal me kya ho rha Hai..... Or west bengal Ka kya halaat Hai.. TMC Ka bolna Tha Humko badla Nhi Badal chahiye Lekin West Bengal thi iska ulta ho rha Hai Agar koi Person TMC ke virudh kuch bolta Hai to uska kya haal hota Hai... Or kya Huwa Hai. Panchayat or Muni lity or Lo shabha ke election me kaisa dhadhli huwa ye v mamta didi se puchu....
    (0)(0)
    Reply
    1. I
      indrajeet
      Apr 8, 2017 at 11:51 pm
      up to hmari ho i an Bengal ki bari hai. Mamta char saal aur gir Jo haal up me akhilesh Maya ka hua vahi Bengal me tumhara hoga.
      (0)(0)
      Reply
      1. S
        sanjay sutradhar
        Apr 8, 2017 at 8:38 pm
        Vai log mai kattar Hindu hu aur mai India m rehte hue kavi Hindu o par attayachar bardast nii kar sakta iske liye mujhe apna jaan v dena pare to de dunga q ki mai ek refusy hu bahut bardast kiya aur nii jab jab dharma ka bari ayega to mai sabse pehle rahunga JAY SHREE RAAM
        (0)(0)
        Reply
        1. A
          arvind
          Apr 8, 2017 at 12:54 am
          मुंबई में Jinnah House Demolished करने की मांग पर इमरान खान के पिछवाड़े में आग लग गयी s: www.dainikdiary /2017/04/07/south-mumbai-jinnah-house-demolished/
          (0)(0)
          Reply
          1. M
            manish agrawal
            Apr 6, 2017 at 2:44 pm
            Chaitanya Mahaprabhu ne Bengal main Sankirtan ki alakh jagaayi thee aur tatkaleen Muslim Nabaab ke atyaachar sahan kiye the. West Bengal ke har district, gali gali mai Sankirtan ayojit karna chahiye aur public ko Sankirtan Clubs se jodnaa hoga. har gali mohalle mai chalchitra aur pradarshani ke maadhyam se Chaitanya Mahaprabhu par MuslimNabaab ke dwaara kiye e atyaachar dikhaana hoga .ek aur mahaan vibhuti hain Bengal ki ! Ramkrishna Paramhans ! unke Satsang aur Dhyan-Yog ka khoob prachaar karna hoga. West Bengal main lambe samay tak Left Parties ne rajya kiya aur aajkal Mamta Benerji ka shaashan hai, aur ye dono hi Hindu-Virodhi hone ke karan Bengal ke Hindus dharm ke prati udaasin ho e hain isliye unme jagruti laani hogi aur iske liye RSS, Bajrang Dal, Vishva Hindu Parishad jese Sangathanon ko bahut parishram karna hoga taki West Bengal bhi Uttar Pradesh ki tarah BHAGWA RANG mai rang jaaye !
            (0)(0)
            Reply
            1. S
              shantiman
              Apr 8, 2017 at 11:30 am
              100 correct ....
              (0)(0)
              Reply
            2. M
              manish agrawal
              Apr 6, 2017 at 2:31 pm
              Chaitanya Mahaprabhu ne Bengal main Sankirtan ki alakh jagaayi thee aur tatkaleen Muslim Nabaab ke atyaachar sahan kiye the. West Bengal ki har district mai,gali gali mai Sankirtan ayojit karna chahiye, public ko Sankirtan Clubs se jodnaa chahiye.HARE RAMA HARE RAMA RAMA RAMA HARE HARE, HARE KRISHNA HARE KRISHNA KRISHNA KRISHNA HARE HARE ! Chaitanya Mahaprabhu par Muslim Nabaab ke atyaachar ki pradarshani, chalchitra, har gali mohalle mai dikhaana chahiye. ek aur mahaan vibhuti hain Bengal ki ! Ramkrishna Paramhans ! unke satsang aur Dhyan-Yog ka public mai lagataar prachaar karna hoga. West Bengal main Left Parties ne lambe samay tak rajya kiya aur aajkal Mamta Benerji ka shaashan hai, aur ye dono hi Hindu-Virodhi hone ke karan Bengal ke Hindus dharm ke prati udaasin ho e hain, isliye unme jagruti laani hogi aur iske liye RSS, Bajrang Dal,Vishva Hindu Parishad jese Sangathanon ko bahut parishram karna hoga taki jaldi hi Bengal bhi Uttar Pradesh ki tarah BHAGWA RANG mai rang jaye !
              (0)(0)
              Reply
              1. M
                mullo ke bap Hindu ka sat
                Apr 6, 2017 at 1:04 pm
                Gaddar cm ....an Teri pali hay harne ka ...jese u.p me huwa tha ousai hoga bangal me vi ...tere ko vi sabak sikana pa a
                (0)(0)
                Reply
                1. S
                  shantiman
                  Apr 8, 2017 at 11:37 am
                  yess- Mamata i ko harana hoga aur itna hi nahi iss ghatiya aurat ko Bengal se lakhedna chahiye...... iss ke vote bank ke ghatiya rajniti ko pardaphas karna chahiye
                  (0)(0)
                  Reply
                2. A
                  Ashish bhadani
                  Apr 6, 2017 at 11:48 am
                  सभी समुदाय के लोगों को अपने अपने धर्म को शांतिपूर्वक मनाना चाहिए इसमें किसी को नीचा दिखाने वाली बात नहीं होनी चाहिए हिंदू मुसलमान दोनों को एक दूसरे के प्रति आदर और सम्मान की भी भावना होनी चाहिए
                  (0)(0)
                  Reply
                  1. A
                    Ashish bhadani
                    Apr 6, 2017 at 11:44 am
                    पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने मंगलवार (चार अप्रैल) को कहा था, “भगवान राम के पास तीर-धनुष होता था। तो उनकी पूजा खाली हाथ कैसे हो सकती है? जब मोहर्रम मनाया जाता है तो लोग ध्रुवीकरण की बात नहीं करते। जब ईद और क्रिसमस मनाया जाता है तो ध्रुवीकरण की बात नहीं होती लेकिन राम नवमी मनाने पर कहते हैं कि ध्रुवीकरण हो रहा है। अगर राम नवमी से ध्रुवीकरण होता है तो होने दीजिए। हम इसे मनाएंगे।” Great word sir
                    (0)(0)
                    Reply
                    1. M
                      manish agrawal
                      Apr 6, 2017 at 9:04 am
                      West Bengal ke chappe chappe mai RSS, Bjrang Dal, Vishva Hindu Parishad jese Hindu Sangathanon ko behad mazboot karne ki lagataar jarurat hai aur isko "Mission Bengal Fatah" ka naam dena chahiye. kyuki Mamta Benerji ki Anti-Hindu policies, Hindus ko minority mai lakar,West Bengal ko Hindostan se alag kar dengi . har , tyohaar par rallies,Shobha yatra aur cultural activities etc , large scale par organize karna chahiye aur yadi Mamta Benerji, police ya Trinmool Congress ke workers ke maadhyam se Hindu activities ko kuchalnaa chaahe to aise occ ions par Madhya Pradesh, Rajasthan, Chhattisgarh, Haryana, Gujrat, Delhi, Uttar Pradesh ityaadi states se laakhon Rashtrabhakt Yuvak West Bengal bheje jaa sakte hain. VANDE MATRAM ka jayghosh Bankim Chandra Chatterji ne Bengal main hi shuru kiya thaa. isliye Bengali Hindus, nishchit hi is naare ko good morning ki jagah, aapsi abhivaadan mai use karne lag jaayenge, par prayaas, lagaataar Hindu Sangathanon ko karna hoga !
                      (0)(0)
                      Reply
                      1. B
                        Babar
                        Apr 6, 2017 at 12:14 pm
                        100 cr hinduo ko 14 cr muslimo se darr lagta hain .... lekin hindu to us waqt bhi safe the jab desh me muslimo ka raaj tha (kareeb 900 saal), ye sab hindu aatankiyo ki saazish hain ki desh me nafrat ke aadhar par raaj karo...
                        (0)(0)
                        Reply
                        1. A
                          Aashu
                          Apr 6, 2017 at 10:27 pm
                          Dekh babar pahale to tu samjhta nahi hai....har ek aatankwadi muslim hota aur hai jis din hindu hatiyar uta le phir tum log ko bolne ka mauka v nahi milega.....so nafrat hm log nahi tum log failate ho.....history gawaha hai hi kisi v i chijo ki suruwat tum log hi karte ho
                          (0)(0)
                      2. Load More Comments