December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

Video: केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो पर हमला, भाजपा का आरोप- टीएमसी कार्यकर्ताओं ने फेंके पत्थर

भाजपा सांसद और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो को इसमें हल्की चोटें आई हैं।

तोड़ी गई गाड़ी तस्वीर। (Photo-ANI)

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रीयो पर बुधवार को कथित तौर पर तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आसनसोल में ईंट से हमला किया, जब वह कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के खिलाफ प्रदर्शन करने के एक पुलिस थाना जा रहे थे। भारी उद्योग एवं लोक उपक्रम राज्य मंत्री सुप्रीयो ने बताया, ‘मैं अपनी पार्टी के कुछ लोगों की रिहाई सुनिश्चित करने के लिए थाना जा रहा था। मुझ पर तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ईंट से हमला किया गया और मेरी कार की खिड़की का कांच क्षतिग्रस्त हो गया। उन्होंने काले झंडे भी दिखाए। मैं नहीं जानता कि पुलिस ने भीड़ को मेरी कार के पास क्यों आने दिया ।’

घटना की वीडियो फुटेज से जाहिर होता है कि सुप्रीयो एक वाहन के फूटबोर्ड पर खड़े थे और एक पत्थर उनके सीने पर आ लगा। भाजपा सूत्रों ने बताया कि हमले में केंद्रीय मंत्री को चोट लगी है। आसनसोल के पुलिस आयुक्त एलएन मीणा ने बताया कि भाजपा समर्थकों ने तृणमूल नेता के घर का घेराव करने की योजना बनाई थी और जिस वक्त संकट शुरू हुआ उस वक्त मंत्री मलय घटक आसनसोल उत्तर पुलिस थाना इलाके में थे। सूत्रों के मुताबिक भाजपा कार्यकर्ताओं को घटक के आवास की ओर जाने से रोक दिया गया जिसके चलते वे आसनसोल दक्षिण पुलिस थाना की ओर बढ़े। भाजपा और तृणमूल के समर्थकों के बीच उस वक्त झड़प हुई जब भगवा पार्टी कार्यकर्ता प्रदर्शन के लिए जा रहे थे।

Read Also: BJP नेता और सिंगर बाबुल सुप्रियो और रचना शर्मा की शादी की कुछ खास तस्वीरें

मीणा ने बताया कि घटना के सिलसिले में सभी 57 लोगों लोगों गिरफ्तार कर लिया गया है। सुप्रीयो ने प्रदर्शन का अधिकार होने की बात करते हुए दावा किया कि भाजपा कार्यकर्ताओं को तृणमूल के लोगों ने पीटा। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि उनकी पार्टी ने कल इलाके में गाय तस्करी के खिलाफ प्रदर्शन किया था तभी तृणमूल कार्यकर्ताओं ने उनकी पिटाई की। भाजपा के कुछ कार्यकर्ताओं को पुलिस भी कथित तौर पर उठा ले गई जिनकी सुप्रीयो रिहाई सुनिश्चित कराना चाहते थे। स्थानीय तृणमूल नेता शिवदासन ने कहा कि भाजपा कार्यकताओं को मंत्री के घर के सामने प्रदर्शन करने की बजाय प्रशासन के समक्ष विरोध दर्ज कराना चाहिए।

Read Also: हवा में शुरू हुई थी बाबुल और रचना की लव स्टोरी, शादी में पहुंचे PM मोदी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 19, 2016 5:59 pm

सबरंग