ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली: बार में शख्‍स ने पी लिया कुछ ऐसा कि पेट में हो गया बड़ा सा छेद

सर्जरी के बाद तीन दिनों तक पीड़ित वैंटिलेटर पर ही रहा था।
Author गुड़गांव | July 3, 2017 15:49 pm
तस्वीरा का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर। (Photo Source: Social Media)

दिल्ली का रहने वाला 30 वर्षीय एक व्यक्ति अपने दोस्तों के साथ एक बार में कुछ अच्छी सी ड्रिंक पीने के लिए गया था लेकिन उसे यह नहीं मालूम था कि उसे कॉकटेल की जगह बार में पीने के लिए नाइट्रोजन दे दिया जाएगा। इस मामले की जानकारी देते हुए पीड़ित ने कहा कि जो मैंने पिया वो एक तरह का कॉकटेल था जिसमें से काफी धुआं उठा रहा था। मैंने जैसे ही उस ड्रिंक का एक घूंट भरा मुझे अजीब से महसूस होने लगा। मुझे ऐसा लग रहा था जैसे कि मैंने कोई एसिड पी लिया हो। मैंने  बारटेंडर से इस बारे में बोला तो उसने मुझे दूसरी ड्रिंक दे दी। अजीब सा महसूस हो रहा था लेकिन उस बारे में न सोचते हुए मैंने वह दूसरी ड्रिंक पी ली।

ड्रिंक पीने के कुछ ही सेकेंड बाद मेरे पेट में सूजन आने लगी, जिसकी वजह से काफी दर्द हो रहा था और मुझे सांस लेने में भी दिक्कत आने लगी। इसके बाद पीड़ित को तुरंत ही गुरुग्राम के कोलंबिया एशिया अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया जहां पर डॉक्टरों ने बिना किसी देरी के पीड़ित की सर्जरी कर दी। हिन्दुस्तान टाइम्स के अनुसार इस मामले की जानकारी देते हुए सर्जरी करने वाले डॉक्टर अमित दिप्ता गोस्वामी ने बताया कि पीड़ित को बहुत गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया था। उसका पेट असामान्य रूप से सूजा हुआ था। पीड़ित का न तो हार्ट रेट कंट्रोल में था और न ही बल्ड प्रैशर।

ऑपरेशन के दौरान डॉक्टरों ने पाया कि पीड़ित का लैक्टिक एसिड लेवल काफी हाई था, जिसका मतलब था कि शरीर में ऑक्सिजन की बहुत कमी थी। पीड़ित को तुरंत ही वैटिलेटर पार डाला गया और उसका सीटी स्कैन कराया गया। सीटी स्कैन में यह बात सामने आई की पेट के जरिए हवा पास हो रही है जिसके कारण वह सांस नहीं ले पा रहा है। ऑपरेशन के दौरान पता चला कि पीड़ित के पेट में उस लिक्विड के कारण एक बड़ा सा छेद हो गया था जो कि किसी खुली हुई किताब की तरह लग रहा था। इस छेद को फिर से सिलना मुश्किल था इसलिए हमने पेट का खराब हिस्सा निकाल दिया और बाकी हिस्से को छोटी-छोटी आंतों से जोड़ दिया। यह मामला दो महीन पुराना है। सर्जरी के बाद तीन दिनों तक पीड़ित वैंटिलेटर पर ही रहा था। फिलहाल पीड़ित में अब काफी सुधार है। पीड़ित ने कहा कि इस घटना के बाद से मैंने ड्रिंक करना छोड़ दिया है और अब मैं कभी भी ऐसे कोई ड्रिंक नहीं पीऊंगा जिसके बारे में मुझे पता न हो कि उसके अंदर क्या है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.