ताज़ा खबर
 

मानव दर्जा मिलने के बाद गंगा को मिला पहला कानूनी नोटिस

नोटिस पाने वाले सभी पक्षों को उसका जवाब दाखिल करने का निर्देश देते हुए उच्च न्यायालय ने मामले की अगली सुनवाई के लिये आठ मई की तारीख तय की है।
Author April 29, 2017 12:45 pm
गंगा नदी में डुबकी लगाता एक श्रद्धालु। (Reuters File Photo)

उत्तराखंड उच्च न्यायालय से मानव का दर्जा पाने के बाद गंगा नदी को आज पहला कानूनी नोटिस भी मिल गया। ऋषिकेश निवासी स्वरूप सिंह पुंडीर द्वारा दायर याचिका में कहा गया है कि खादरी खडग गांव में नियमों का उल्लंघन करते हुए एक टेंचिंग ग्रांउड का निर्माण किया जा रहा है। पुंडीर ने दलील दी कि ग्राम पंचायत ने यह जमीन म्युनिसिपल बोर्ड को यह जमीन बिना ग्रामीणों को विश्वास में लिये आवंटित कर दी। न्यायमूर्ति वीके बिष्ट और न्यायमूर्ति आलोक सिंह की खंडपीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और नगर पालिका परिषद, ऋषिकेश के अलावा गंगा को भी नोटिस जारी किया है।

नोटिस पाने वाले सभी पक्षों को उसका जवाब दाखिल करने का निर्देश देते हुए उच्च न्यायालय ने मामले की अगली सुनवाई के लिये आठ मई की तारीख तय की है।

गौरतलब है कि उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने पिछले दिनों गंगा और यमुना को मानव का दर्जा देते हुए उसे जीवित व्यक्ति के सभी कानूनी अधिकार दे दिये थे। इस संबंध में उच्च न्यायालय ने प्रदेश के मुख्य सचिव, प्रदेश के महाधिवक्ता और नमामि गंगे परियोजना के निदेशक को गंगा का संरक्षक नियुक्त किया था।

बता दें कि न्‍यूजीलैंड ने एक नदी को ऐसे ही अधिकार दे रखे हैं।” जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने कहा है कि ‘हम तो गंगा को हमेशा से ही मां करते हैं, तो मां लिविंग पर्सन (जीवित प्राणी) ही होती हैं और हाईकोर्ट ने उसी की पुष्टि कर दी है।’

गंगा भारत की सबसे महत्‍वपूर्ण और पौराणिक दृष्टि से पूज्‍यनीय नदी है। उत्‍तराखंड में हिमालय पर्वत श्रृंखला के गंगोत्री ग्‍लेशियर से निकलने वाली गंगा भारत के मैदानी इलाकों को सींचते हुए सीधे बंगाल की खाड़ी में गिरती है। गंगा को स्वच्छ रखने के लिए कुछ समय पूर्व इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सरकार को गंगा में पर्याप्त पानी छोड़ने और गंगा के आसपास पॉलीथीन को प्रतिबंधित करने का आदेश दिया था, लेकिन अब भी इन क्षेत्रों में पालीथीन पूरी तरह से प्रतिबंधित नहीं किया जा सका है।

देखिए वीडियो - धमका कर मुस्लिम से जयश्रीराम बुलवाने का यह वीडियो अगर सच है तो यह देश की गंगा जमनी तहजीब पर सवाल खड़ा करता है

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग