ताज़ा खबर
 

केदारनाथ: कपाट खुलने के दिन पूजा करने वाले पहले पीएम बनेंगे मोदी, पद संभालने के बाद पहला दौरा

रुद्रप्रयाग से लेकर गौरीकुंड तक सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे है।
Author देहरादून | April 29, 2017 15:32 pm
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (File Photo)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केदारनाथ धाम के प्रस्तावित दौरे को लेकर बहुत ही खास तैयारी की जा रही है। मोदी की केदार बाबा में शुरु से ही काफी गहरी आस्था रही है। 3 मई को केदार बाबा के धाम के कपाट खुलने जा रहे है और पहले ही दिन पीएम यहां आकर बाबा से आर्शिवाद लेंगे। पीएम के इस दौरे को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे है। रुद्रप्रयाग से लेकर गौरीकुंड तक सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे है। वहीं पीएम के केदारनाथ के दौरे को लेकर स्थानीय लोग भी काफी उत्साहित है। स्थानीय लोगों का कहना है कि हम चाहते है की केदार धाम के मार्ग को मुख्य सड़क से जोड़ा जाए। इसके लिए हम पीएम से मांग करेंगे कि वह हमारी इस बात पर ध्यान देते हुए यह काम करवाएं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पीएम 3 मई को सुबह के करीब 7.25 देहरादून स्थित जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचेंगे। इसके बाद 8.50 पर पीएम केदार बाबा के दर्शन कर 11.35 पर हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ में जाएंगे। पीएम मोदी वहां पर एक शोध संस्थान का उद्घाटन करने के बाद वापस दिल्ली के लिए लौटेंगे। आपको बता दें कि केदार घाटी से प्रधानमंत्री बनने से पहले ही मोदी का काफी लगाव रहा है। देश का कार्यभार संभालने से पहले मोदी कई बार केदार बाबा के दर्शन के लिए आए थे। सुनने में आया है कि 90 के दशक तक मोदी तकरीबन हर साल यहां दर्शन करने के लिए आते थे।

2013 में जब उत्तराखंड में त्रासदी हुई थी तब उन्होंने राज्य के तत्कालीन सीएम हरिश रावत से केदारनाथ को गोद लेने की बात कही थी। मोदी चाहते थे कि त्रासदी के कारण तबाह हुए केदार नाथ को फिर से नया रूप दिया जा सके, लेकिन राजनीतिक कलेश की वजह से हरीश रावत ने इससे इनकार कर दिया था। बता दें कि मोदी से पहले दिवंगत प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और वीपी सिंह भी केदारनाथ दर्शन के लिए आए थे।

देखिए वीडियो - उत्तर प्रदेश के बाद उत्तराखंड में भी सार्वजनिक स्थलों पर थूकना मना; 5000 रुपए जुर्माना, हो सकती है 6 महीने जेल की सजा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.