ताज़ा खबर
 

हरीश रावत मंत्रिमंडल का विस्तार, नवप्रभात और भंडारी को दिलाई शपथ

राज्य विधानसभा चुनाव से पहले दो और मंत्रियों के शामिल हो जाने के बाद मुख्यमंत्री रावत समेत राज्य मंत्रिमंडल में 12 सदस्य हो गए हैं।
Author देहरादून | July 28, 2016 13:07 pm
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत। (पीटीआई फाइल फोटो)

कांग्रेस संगठन और विधायकों के दबाव के बीच उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गुरुवार (28 जुलाई) को राज्य मंत्रिमंडल का विस्तार करते हुए दो कांग्रेस विधायकों नवप्रभात और राजेंद्र भंडारी को उसमें शामिल कर लिया। विकासनगर से विधायक नवप्रभात और बदरीनाथ के विधायक भंडारी को सुबह राजभवन में आयोजित एक सादा समारोह में राज्यपाल डॉ. कृष्णकांत पाल ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। समारोह के दौरान मुख्यमंत्री रावत के अलावा उनके मंत्रिमंडल के अन्य सहयोगी भी मौजूद थे। अगले साल की शुरुआत में होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव से पहले दो और मंत्रियों के शामिल हो जाने के बाद मुख्यमंत्री रावत समेत राज्य मंत्रिमंडल में 12 सदस्य हो गए हैं।

रावत के दिल्ली दौरे से लौटने के दो दिन बाद यह मंत्रिमंडल विस्तार किया गया है। माना जा रहा है कि कांग्रेस संगठन और विधायकों के दबाव के चलते मुख्यमंत्री को इस कवायद को अंजाम देना पड़ा। बुधवार (27 जुलाई) को मुख्यमंत्री ने कहा था कि उन्होंने नयी दिल्ली में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात के दौरान उनके समक्ष बात रख दी है और उनसे अनुमति मिलने के बाद मंत्रिमंडल विस्तार कर दिया जाएगा। गौरतलब है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने पिछले दिनों कहा था कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर इस कवायद को अब और नहीं टाला जाना चाहिए।

उपाध्याय ने मुख्यमंत्री को यह भी सुझाव दिया था कि विनियोग विधेयक पारित कराने के लिये 21 और 22 जुलाई को बुलाए गए विधानसभा के विशेष सत्र के फौरन बाद मंत्रिमंडल विस्तार कर दिया जाना चाहिए और इसके लिये उन्होंने 23 जुलाई की तिथि को उपयुक्त बताया था। पिछले साल फरवरी में बीमारी के चलते तत्कालीन समाज कल्याण मंत्री सुरेंद्र राकेश के निधन से मंत्रिमंडल में एक स्थान रिक्त हो गया था जबकि इस साल मार्च में तत्कालीन कृषि मंत्री हरक सिंह रावत के नौ अन्य कांग्रेस विधायकों के साथ सरकार से बगावत करने के कारण मंत्रिमंडल में एक और जगह खाली हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.