ताज़ा खबर
 

उत्तराखंड कांग्रेस पार्टी के दफ्तर में फिर तोड़फोड़

उत्तराखंड कांग्रेस में टिकट बंटवारे के दूसरे दिन, सोमवार, को भी पार्टी के प्रदेश कार्यालय, राजीव भवन, में हंगामा जारी रहा।
Author देहरादून | January 24, 2017 00:54 am

उत्तराखंड कांग्रेस में टिकट बंटवारे के दूसरे दिन, सोमवार, को भी पार्टी के प्रदेश कार्यालय, राजीव भवन, में हंगामा जारी रहा। टिकट न मिलने से नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दोबारा पार्टी कार्यालय में लगे बैनरों को फाड़ डाला और पार्टी दफ्तर में प्रदेश अध्यक्ष के कमरे में घुसकर मेज, कुर्सी, कंप्यूटर तथा अन्य सामान तोड़ डाले। टिकट न मिलने से नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय और मुख्यमंत्री हरीश रावत के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। तोड़फोड करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं में कांग्रेस नेता और सहसपुर विधानसभा क्षेत्र से टिकट की मांग करने वाले आर्येन्द्र शर्मा के समर्थक थे। वे आर्येंद्र शर्मा जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। आर्येंद्र शर्मा के समर्थक नसीम ने अपने ऊपर पेट्रोल छिड़क कर आत्मदाह करने का प्रयास किया परंतु पुलिस नसीम को अपने कब्जे में कर कोतवाली ले गई।

कांग्रेस कार्यालय में तोड़फोड़ और हंगामा तकरीबन दो घंटे तक चलता रहा। इस दौरान पार्टी का कोई भी प्रदेश पदाधिकारी पार्टी के कार्यालय में मौजूद नहीं था। पार्टी के नेता हंगामा करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं के डर से सोमवार सुबह पार्टी कार्यालय में नहीं आए। कांग्रेस कार्यकर्ता कादिर हुसैन ने कहा कि सहसपुर विधानसभा सीट से बाहरी उम्मीदवार के रूप में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को कांग्रेस हाईकमान ने टिकट देकर कांग्रेस के स्थानीय कार्यकर्ताओं के साथ धोखाधड़ी की है। हरीश रावत और किशोर उपाध्याय पूरे प्रदेश में कांग्रेस में अपना एकछत्र राज चाहते हैं। इसलिए वे अपनी मनमर्जी से टिकट बांट रहे हैं। सहसपुर से बाहरी उम्मीदवार कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

कांग्रेस के टिकट बंटवारे को लेकर फैले असंतोष के बाद कांग्रेस के प्रदेश नेता सदमे में है। उत्तराखंड के इतिहास में पहली बार किसी राजनीतिक दल के कार्यालय में इतना जबरदस्त हंगामा पहली बार बरपा है। कांग्रेस कार्यालय में सोमवार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय और आर्येंद्र शर्मा के समर्थकों के बीच आज जमकर हाथापाई हुई जिसमें आधा दर्जन कांग्रेस कार्यकर्ता घायल हो गए। हंगामे के चलते किशोर उपाध्याय पार्टी के कार्यालय में नहीं पहुंचे।
उधर दूसरी ओर टिकट बंटवारे को लेकर कांगे्रस में असंतोष लगातार बढ़ता जा रहा है। और कांग्रेस के कई नेता पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं। देहरादून के जिलापंचायत उपाध्यक्ष डबल सिंह भंडारी अपने साथियों के साथ भाजपा में शामिल हो गए। वहीं रूद्रप्रयाग में टिकट न मिलने से खफा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष प्रदीप थपलियाल, घनसाली से किसान कांग्रेस के प्रदेश महासचिव शूरवीर लाल, देहरादून कैंट से प्रदेश सचिव अनिल नेगी, नवीन बिष्ट, डोईवाला से एसपी सिंह, बद्रीनाथ से लखपत बुटोला, रूड़की से यशपाल राणा, पुरोला से राजेश जुवांठा, लालकुआं से हरेंद्र वोरा, पौड़ी से देवकीनंदन शाह और भीमताल से रामसिंह केडा ने कांग्रेस से बगावत कर निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

कांग्रेस में बगावत थमने का नाम नहीं ले रही है। जबकि कई सीटों पर कांग्रेस को मजबूत उम्मीद खड़े करने को नहीं मिले हैं। पार्टी में लगातार हो रही बगावत को देखते हुए पार्टी हाईकमान ने प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को दिल्ली तलब किया है। पार्टी कार्यालय में हंगामे के चलते पार्टी के उम्मीदवारों को कांग्रेस के चुनाव निशान के पर्चे पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट के घर से बांटे जा रहे हैं। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा कि पार्टी कार्यालय में तोड़फोड़ करने वाले कांग्रेस के कार्यकर्ता नहीं हो सकते हैं। यह काम असामाजिक तत्वों का है। और इस सारे हंगामे पर पार्टी की नजर टिकी हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.