ताज़ा खबर
 

यूपी: संभल में विवाद सुलझाने पहुंची पुलिस के साथ ही मारपीट, 150 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

विवाद उस समय हुआ जब एक बस चालक और कुछ यात्रियों ने बैलगाड़ी चालक लड़के को थप्पड़ जड़ दिया। इसके बाद मारपीट हुई, जिसे सुलझाने आई पुलिस के ऊपर भी पथराव हुआ।
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के सम्भल जिले में मामूली विवाद को लेकर उग्र हुई भीड़ के पथराव में एक पुलिस क्षेत्राधिकारी समेत कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। विवाद तब हुआ जब राजपुरा इलाके में बस सवार यात्रियों को कुछ स्थानीय लोगों ने रोक लिया। इसके बाद दोनों गुटों में बहस हो गई और यह बहस धीरे-धीरे मारपीट में तब्दील हो गई। इस मामले को सुलझाने पहुंची पुलिस के साथ भी मारपीट हुई। पुलिस ने 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है और मामले की कार्रवाई मे जुट गई है।

पुलिस ने बताया कि मुस्लिम समुदाय से ताल्लुक रखने वाले 90 लोगों का एक ग्रुप राजस्थान के अजमेर शरीफ दरगाह से आ रहा था। ये लोग अजमेर से जियारत करके मुरादाबाद जा रहे थे। विवाद उस समय हुआ जह कथित तौर पर बस चालक और कुछ यात्रियों ने बैलगाड़ी चालक लड़के को थप्पड़ जड़ दिया। इसके बाद वहां स्थानीय लोग इक्टठा हो गए। आरोप है कि स्थानीय लोगों ने चार बस सवार ग्रुप के चार लोगों को बंधक बना लिया। बाकी लोग बस समेत फरार हो गए।

बस चालक अपना वाहन लेकर सम्भल चला आया औरवहां से सम्भल कोतवाली के चौधरी सराय आया और पुलिस चौकी के सामने वाहन खड़ा कर रास्ता जाम कर दिया। इस पर वहां बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो गए और घटना का विरोध शुरू कर दिया। संभल के एसपी बलेंदु भूषण ने बताया कि सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने नाराज भीड़ को समझाने की कोशिश की लेकिन आक्रोश खत्म नहीं हुआ और भीड़ में शामिल लोगों ने पथराव शुरू कर दिया जिससे एक क्षेत्राधिकारी (नगर) अफसर अब्बास जैदी समेत पांच-छह पुलिसकर्मी घायल हो गए।

उन्होंने बताया कि आक्रोशित भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने बल प्रयोग किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। स्थिति को देर रात नियंत्रित कर लिया गया। पुलिस अधीक्षक बालेन्दु भूषण ने बताया कि हालात के मद्देनजर इलाके में पीएसी तैनात कर दी गयी है। आरोपियों को चिह्नित कर उनकी धरपकड़ की जा रही है।

बाकी ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक कीजिए

पंजाब में बोले पीएम मोदी- “पाक जाने वाला बूंद-बूंद पानी रोककर किसानों को देंगे”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.