ताज़ा खबर
 

यूपी: मुस्लिम नेता की फैक्ट्री से दो गाड़ियों में ले जाई जा रही थीं जानवरों की हड्डियां, एफआईआर

चुनावी घोषणा पत्र में भाजपा और भाजपा के कई विधायकों ने ने यांत्रिक बूचड़खाने बंद कराने की बात कही थी।
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फोटो सोर्स यूट्यूब स्क्रीन शॉट)

उत्तर प्रदेश के लोनी क्षेत्र में समाजवादी पार्टी (एसपी) के पूर्व सिटी अध्यक्ष के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। दरअसल शख्स के ऊपर आरोप है कि उसकी फैक्ट्री से कथित तौर पर जानवरों की हड्डियों से भरे दो ट्रक बरामद किए गए हैं। जिसपर डीएम के आदेश पर आरोपी शख्स की फैक्ट्री को सील कर दिया गया है। मामल में एक एफआईआर फैक्ट्री मालिक एहसान कुरेशी के खिलाफ लोनी पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई है। मामले में जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि घटना शनिवार (29 जुलाई, 2017) की है। हमने शक के आधार पर दो ट्रकों की जांच की है। जांच में फैक्ट्री से बाहर आ रहे दो ट्रकों (एक छोटा ट्रक और एक ट्रेक्टर) में जानवरों की हड्डियां पाईं गईं। वाहनों के दोनों ड्राइवरों को गिरफ्तार कर लिया गया है। फैक्ट्री का इस्तेमाल गैरकानूनी रूप से जानवरों की हड्डियों के कारोबार के लिए किया जा रहा था। वहीं फैक्ट्री के मालिक एहसान कुरेशी के खिलाफ पर्यावरण (संरक्षण) एक्ट 1986 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। जानकारी के लिए बता दें कि सूबे में भाजपा की सरकार आते ही मीट फैक्ट्री और बूचड़खाना संचालकों की नींद उड़ गई है।

चुनावी घोषणा पत्र में भाजपा और भाजपा के कई विधायकों ने ने यांत्रिक बूचड़खाने बंद कराने की बात कही थी। सरकार बनने के बाद इसका असर भी देखने को मिला है। पुलिस और प्रशासन के साथ भाजपा विधायकों ने मीट और हड्डी फैक्ट्रियों को बंद कराने की कवायद शुरू की थी। बीते दिनों लोनी के भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर भी इसके खिलाफ सख्त पुलिस कार्रवाई कराने बात कही थी। उन्होंने शहर में हड्डी मिल, बूचड़खानों और मीट फैक्ट्रियों को बंद कराने को प्राथमिकता देने की बात कही थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.