ताज़ा खबर
 

रेलमंत्री मनोज सिन्हा का वादा, 2019 तक फ्रेट कॉरिडोर बनने से अपने राइट टाइम पर चलेंगी ट्रेनें

रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने आज कहा कि वर्ष 2019 तक समर्पित मालढुलाई गलियारे का काम पूरा होने पर मालगाड़ियां इस गलियारे से गुजरेंगी जिससे सरकार सवारी गाड़ियों को समय पर चलाने में समर्थ होगी।
Author इलाहाबाद | May 31, 2017 14:45 pm
रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने आज कहा कि वर्ष 2019 तक समर्पित मालढुलाई गलियारे का काम पूरा होने पर मालगाड़ियां इस गलियारे से गुजरेंगी जिससे सरकार सवारी गाड़ियों को समय पर चलाने में समर्थ होगी।

रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने आज कहा कि वर्ष 2019 तक समर्पित मालढुलाई गलियारे का काम पूरा होने पर मालगाड़ियां इस गलियारे से गुजरेंगी जिससे सरकार सवारी गाड़ियों को समय पर चलाने में समर्थ होगी। इलाहाबाद जंक्शन पर आटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन एवं चाइल्ड केयर सेंटर का उद्घाटन करने आए सिन्हा ने कहा, पूर्वी और मध्य उत्तर प्रदेश में एक भी रेल खंड ऐसा नहीं है जिसका विद्युतीकरण और दोहरीकरण मोदी सरकार ने स्वीकृत न किया हो। मैं कह सकता हूं कि आगामी 3-4 वर्षों में उत्तर प्रदेश के रेल खंड को देश के आधुनिकतम रेल खंडों में गिना जाएगा… इस दिशा में हम काम कर रहे हैं।

मंत्री ने कहा, ‘‘वर्ष 2014 से पूर्व पांच वर्ष का औसत निकालें तो भारतीय रेल की परियोजनाओं में हर साल मोटे तौर पर 45,000-46,000 करोड़ रुपए निवेश किए जाते थे जिसे बढ़ाकर इस सरकार ने 1.25 लाख करोड़ रुपए प्रतिवर्ष किया है। सिन्हा ने कहा, ‘‘सूबेदारगंज सैटेलाइट स्टेशन के विकास में भारतीय रेलवे 45 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है। यमुना पर एक नए पुल का भी निर्माण किया जा रहा है। इलाहाबाद में 1,000 करोड़ रुपए की लागत से एक बाइपास लाइन बनाने की भी स्वीकृति इस सरकार ने दी है। वर्ष 2019 के कुंभ से पहले इलाहाबाद में पांच रेल अंडर ब्रिज भी बनाए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि इलाहाबाद मुगलसराय के बीच 2000 करोड़ रुपए की लागत से तीन फ्लाईओवर बनाने की स्वीकृति दी गई है।
सिन्हा ने कहा, वर्ष 2014 से पूर्वी उत्तर प्रदेश को विभिन्न रेल परियोजनाओं के लिए 900-1000 करोड़ रुपए मिलता था जिसे हमने बढ़ाकर 5,000 करोड़ रुपए कर दिया है। मंत्री ने इस मौके पर सूबेदारगंज स्टेशन के टर्मिनल स्टेशन के रूप में विकास संबंधी कार्यों का भी शिलान्यास किया। इस कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद रेवती रमण सिंह, उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक एमसी चौहान, मंडल रेल प्रबंधक संजय कुमार पंकज और रेलवे के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग