ताज़ा खबर
 

अलीगढ़ में मस्जिद का गुंबद बनाने पर हंगामा, जमकर हुई गोलीबारी और पत्थरबाजी

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पहले बातचीत से दोनों पक्षों को शांत कराने की कोशिश की गई लेकिन जब वे शांत नहीं हुए तो हमें उनपर आंसू गैस के गोले, रबर बुलैट और हवाई फायरिंग करनी पड़ी।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

अलीगढ़ में एक मस्जिद के गुंबद के निर्माण को लेकर दो गुट आपस में भिड़ गए, जिसके बाद पूरे इलाके में सांप्रदायिक तनाव का माहौल बन गया। यह हिंसा इतनी बढ़ गई कि दोनों गुटों के बीच गोलीबारी शुरु हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़कर लोगों को शांत कराया। लोग शांत तो हो गए लेकिन इलाके में अभी भी तनाव का माहौल बना हुआ है, जिसके चलते वहां पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। एक पुलिस अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार इलाके के फूल चौराहा में स्थित एक मस्जिद में गुंबद का निर्माण कार्य कराया जा रहा था कि तभी वहां हिंदू समुदाय के कुछ लोग पहुंच गए।

अधिकारी ने कहा कि हिंदूओं ने दावा किया है कि गुंबद का निर्माण कार्य अवैध तरीके से कराया जा रहा था। हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लोगों के बीच इसे लेकर काफी बहसबाजी हुई। वहीं दूसरी तरफ इस मामले की जानकारी मिलते ही स्थानीय बीजेपी विधायक संजीब राजा मौके पर पहुंच गए। वहां पहुंचने के बाद संजीव ने हिंदू समुदाय को और ज्यादा भड़काने वाला भाषण दे दिया। उन्होंनें लोगों से कहा कि गुंबद ही नहीं यह पूरी मस्जिद ही अवैध तरीके से यहां पर बनी हुई है। यह सुनने के बाद दोनों समुदाय के लोग आपस में भिड़ गए। इसके बाद दोनों गुटों के बीच गोलीबारी और जमकर पत्थरबाजी हुई। फिलहाल इस घटना में किसी के घायल होने की खबर नहीं मिली है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पहले बातचीत से दोनों पक्षों को शांत कराने की कोशिश की गई लेकिन जब वे शांत नहीं हुए तो हमें उनपर आंसू गैस के गोले , रबर बुलैट और हवाई फायरिंग करनी पड़ी। जिसके बाद भीड़ तितर-बितर हो गई और लोगों को जबरदस्ती वहां से खदेड़ना पड़ा। उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले की जांच की जा रही है। इस हिंसा के बाद इलाके में पुलिस बल तैनात किया गया है ताकि माहौल को शांत रखा जा सके।

देखिए वीडियो - उत्तर प्रदेश: अलीगढ़ जिले में एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या की गई

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग