ताज़ा खबर
 

‘रिवाल्वर रानी’ मामला: दोनों परिवार में नहीं हुई सुलह, पुलिस ने प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेजा

बाद में प्रेमी अशोक को हमीरपुर अदालत में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया और वर्षा को भी पुलिस हिरासत से रिहा किया कर दिया गया।
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

‘रिवाल्वर रानी’ मामले में एक नया मोड़ सामने आया है। सोमवार को हमीरपुर मौदहा की पुलिस ने प्रेमी अशोक यादव को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है। वहीं रिवॉल्वर रानी के नाम से मशहूर हो चुकी वर्षा साहू और उसके दोस्त राहुल के खिलाफ पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज कर लिया है। बता दें कि 15 मई को हमीरपुर जिले से तमंचे के बल पर वर्षा साहू ने अपने प्रेमी अशोक यादव को शादी के मंडप से अगवा कर लिया था। घटना के बाद अशोक के पिता रामहित ने पुलिस में एफआईआर दर्ज कर आरोप लगाया था कि उनके बेटे को रिवाल्वर दिखाकर शादी के मंडप से अगवा कर लिया गया था। शिकायत के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए वर्षा और उसके सहयोगी राहुल को गिरफ्तार कर लिया था। इन दोनों के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा-363 के तहत मामला दर्ज किया था।

बाद में प्रेमी अशोक को हमीरपुर अदालत में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया और वर्षा को भी पुलिस हिरासत से रिहा किया कर दिया गया। इस बीच भारती के पिता राम सजीवन ने अशोक और उनके पिता के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई और शादी की व्यवस्था में खर्च किए गए रुपयों की मांग की।

मौदहा पुलिस के एसएचओ ए.के सिंह ने बताया कि सोमवार को मध्यस्थता के लिए दोनों पक्षों को बुलाया गया था। लेकिन दोनों पक्ष इस मुद्दे पर असफल रहे। बाद भारती के पिता के शिकायत के आधार पर आरोपी अशोक यादव को हमने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

उल्लेखनीय है कि यह घटना काफी सुर्खियों में है। 15 मई को हमीरपुर के मौदहा थानाक्षेत्र के गांव भवानी से प्रेमी अशोक यादव को उसकी प्रेमिका वर्षा साहू ने रिवाल्वर दिखाकर अपहरण कर लिया था। इसके बाद पुलिस ने वर्षा और उसके साथी राहुल को बांदा से गिरफ्तार कर लिया था। सफाई में वर्षा ने कहा कि जब वो शादी में पहुंची तो अशोक का चेहरा उतरा हुआ था। ऐसा लग रहा था मानो वह शादी से खुश नहीं था।

देखिए वीडियो - तेलंगाना सरकार का फैसला- शादीशुदा महिलायें पढाई से ध्यान भटकाती हैं, इसलिए आवासीय कॉलेजों में नहीं देंगे प्रवेश

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.