ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश को सीएम योगी आदित्यनाथ की सौगात, कहा- मौजूदा वित्त वर्ष में 25 हजार से ज्यादा स्वरोजगार उपलब्ध कराएंगे

मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश में एसएमई वेन्चर कैपिटल फंड के लिये 200 करोड़ रुपये के कॉरपस फंड की स्थापना के सिलसिले में भी आवश्यक कार्रवाई प्राथमिकता से कराने के निर्देश दिये।
Author April 7, 2017 17:59 pm
बैठक से बाहर आते सीएम योगी आदित्‍य नाथ। (Source: PTI)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूबे के युवाओं को रोजगार दिलाने के लिये मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना प्रारम्भ कराकर मौजूदा वित्तीय वर्ष में 25 हजार से अधिक स्वरोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने कल रात सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग के प्रस्तुतिकरण के समय इस आशय के निर्देश देते हुए कहा कि स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिये मौजूदा वित्तीय वर्ष में आवश्यकतानुसार धनराशि का प्रस्ताव पेश किया जाए। साथ ही मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना में 21 प्रतिशत अनुसूचित जाति/जनजाति लाभार्थियों को भी लाभ दिलाया जाए।

योगी ने कहा कि मौजूदा वित्तीय वर्ष में रोजगार के कम से कम एक लाख 19 हजार अवसर पैदा करने के लिये प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, युवा स्वरोजगार योजना, निर्यात संवर्धन योजना, क्लस्टर विकास योजना, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना एवं तकनीकी उन्नयन/ब्याज उपादान योजना के तहत रोजगार सृजन की कार्रवाई प्राथमिकता से सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हस्तशिल्प विक्रेताओं को ई-कामर्स पोर्टल के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय बाजारों से जोड़ने के लिये आवश्यक कार्रवाई प्राथमिकता के आधार पर सुनिश्चित करानी होगी।

मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश में एसएमई वेन्चर कैपिटल फंड के लिये 200 करोड़ रुपये के कॉरपस फंड की स्थापना के सिलसिले में भी आवश्यक कार्रवाई प्राथमिकता से कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आधुनिक जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केंद्रों को कार्पोरेट शक्ल और अंदाज दिया जाए। प्रदेश के शिल्पकारों द्वारा बनाई जाने वाली कलाकृतियों को बाजार उपलब्ध कराने के लिये विस्तृत कार्य योजना अगले एक माह में बनाकर पेश की जाए।

योगी ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत एक वर्ष में 6,375 इकाईयों की स्थापना कराकर 24,000 रोजगार सृजन कराने के भी निर्देश दिए। उन्होंने चिकन उद्योग को बढ़ावा देने के लिये विस्तृत कार्य योजना बनाए जाने के भी निर्देश दिए।

वहीं शिक्षा की ओर कदम उठाते हुए योगी ने उत्तर प्रदेश की सभी सरकारी स्कूलों में योग शिक्षा और योग अभ्यास को अनिवार्य कर दिया है। मुख्यमंत्री ने इस फैसले को लागू करने के लिए अधिकारियों को जरुरी निर्देश दे दिये हैं साथ ही स्कूलों में आवश्यक संसाधन मुहैया कराने को कहा है। योगी आदित्य नाथ योग के प्रबल समर्थक माने जाते हैं। इससे कुछ दिन पहले उन्होंने कहा था कि योग सभी को जोड़ने वाली और बंधुत्व बढ़ाने वाली क्रिया है।

देखिए वीडियो - उत्तर प्रदेश के बाद 4 और राज्यों में बंद हुए अवैध बूचड़खाने और मीट की दुकानें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.