ताज़ा खबर
 

नोएडा: भाई को राखी बांध बहन ने की खुदकुशी

रक्षाबंधन के दिन सेक्टर-78 की महागुन सोसायटी में अपने भाई को राखी बांधने के बाद एक युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
Author नई दिल्ली | August 9, 2017 02:10 am
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

रक्षाबंधन के दिन सेक्टर-78 की महागुन सोसायटी में अपने भाई को राखी बांधने के बाद एक युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 20 दिन पहले ही युवती लखनऊ से नोएडा अपने भाई के यहां आई थी। सोमवार देर शाम बहन को पंखे से लटका देख भाई ने थाना सेक्टर-49 पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है। उसे मौके से कोई सूसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस प्रथमदृष्टया इसे आत्महत्या का ही मामला मान रही है। हालांकि सोमवार दोपहर तक बेहद खुशमिजाज रही बहन ने शाम को आत्महत्या क्यों की? इसका जवाब नहीं मिल पा रहा है। परिजनों से पूछताछ में पता चला है कि मृतका कुछ दिनों से मानसिक रूप से परेशान चल रही थी। शरद की गर्भवती पत्नी मायके गई हुई है। शरद की देखभाल के लिए उसकी बहन रितु वर्मा (32) 20 दिन पहले लखनऊ से नोएडा आई थी। शरद ने बताया कि रक्षाबंधन वाले दिन रितु बहुत खुश थी। उसने सोमवार सुबह ही शरद के हाथ पर राखी बांधी। उसके बाद दोनों ने एक साथ खाना खाया। दोपहर को रितु फ्लैट के बड़े हॉल में सोने चली गई। शाम करीब 7.30 बजे शरद हॉल में पहुंचा, तो उसने रितु को पंखे पर फंदे से लटका देखा।

राखी के दिन दिल्ली में दो महिलाओं की मौत

रक्षाबंधन के दिन दिल्ली में दो महिलाओं की मौत का मामला सामने आया। पहला मामला इंद्रपुरी का है जहां एक महिला का शव उसके घर में मिला, वहीं दूसरा मामला कंझावला का है जहां एक युवती ने इलाज में लापरवाही के कारण अस्पताल में दम तोड़ दिया। दोनों ही मामलों में पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। कंझावला में लोगों ने अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया।  पुलिस के मुताबिक, इंद्रपुरी के बुधनगर इलाके में कंचन एक मकान की दूसरी मंजिल पर विनोद नाम के शख्स के साथ रहती थी। कंचन ने अपने मकान मालिक को बताया था कि विनोद उसका पति है, लेकिन छानबीन में पता चला कि कंचन अपने पति से अलग विनोद के साथ लिव-इन में रह रही थी। पति के साथ उसका तलाक का मामला चल रहा है। महिला के दो बच्चे भी हैं जो पिता के साथ ही रहते हैं। विनोद बेरोजगार है।

रक्षाबंधन के दिन विनोद यह कहकर निकला था कि वह मंगलवार को आ जाएगा। कंचन की दोपहर को ड्यूटी थी। दोपहर को जब कंचन कनॉट प्लेस स्थित मल्टीप्लेक्स में ड्यूटी पर नहीं पहुंची तो उसके साथियों ने उसे फोन किया। बार-बार फोन करने के बावजूद जब कंचन से बात नहीं हुई तो वहां का एक कर्मचारी कंचन के कमरे पर पहुंचा। कमरे में महिला का शव जमीन पर पड़ा था। तुरंत मामले की जानकारी पुलिस को दी गई।  दूसरी घटना में कंझावला इलाके में 18 साल की एक युवती की अस्पताल में इलाज में लापरवाही के कारण मौत हो गई। कंझावला के कराला में परिजनों के साथ रह रही नीलम को पीलिया था। उसे इलाके के ही एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। परिजनों का कहना है कि अस्पताल में भर्ती कराने के बाद उसकी हालत सुधरने के बजाय और बिगड़ने लगी। सोमवार को राखी के त्योहार पर नीलम ने अपने भाई से कहा कि वह अस्पताल से आएगी पर दिन में ही उसने दम तोड़ दिया। युवती की मौत पर उसके परिजनों ने अस्पताल में हंगामा करना शुरू कर दिया। उनका आरोप था कि अस्पताल ने उसका ठीक से इलाज नहीं किया जिससे उसकी मौत हो गई। हंगामे की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस के आला अधिकारियों ने जांच के बाद उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर मामले को शांत कराया।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग