December 02, 2016

ताज़ा खबर

 

यूपी: सिपाही बता कर घर में घुसे 6 लोगों ने किया 3 महिलाओं का गैंगरेप, 6 मुर्गियां भी ले गए

पुलिस ने बताया कि घटना ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा इलाके की है, जो बुधवार तड़के हुई। हमलावरों ने घर के पुरुषों के हाथ पांव बांध दिए थे और महिलाओं का रेप किया।

ग्रेटर नोयडा में जहां सामूहिक बलात्कार हुआ वहां की एक तस्वीर।

दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र के ग्रेटर नोएडा में 20 साल से कम उम्र की तीन महिलाओं का 6 लोगों ने कथित तौर पर गैंगरेप किया है। ये लोग खुद को पुलिसवाला बताकर घर में घुस आए थे। पुलिस ने बताया कि घटना ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा इलाके की है, जो बुधवार तड़के हुई। हमलावरों ने घर के पुरुषों के हाथ पांव बांध दिए थे और महिलाओं का रेप किया। इतना ही नहीं, आरोपियों ने घर में ही पहले खाना खाया और फिर जाते समय 6 मुर्गियां भी ले गए। महिलाओं को चिकित्सा जांच के लिए नोएडा हॉस्पिटल ले जाया गया।

पुलिस के मुताबिक, “पीड़ित परिवार पास की ही भट्टे में मजदूरी करता है। बुधवार रात जब वो सो रहे थे तो रात को करीब 1 बजे कुछ लोग घर में घुस आए। आरोपियों ने खुद को पुलिस सिपाही बताया और कहा कि पूछताछ के लिए आए हैं। जेवर सर्किल ऑफिसर दिलीप सिंह ने बताया, “जानकारी मिली है कि इसमें 6 लोग शामिल थे जिनपर तीन महिलाओं का रेप करने का भी आरोप है। आरोपियों का मकसद चोरी नहीं लगता क्योंकि उन्होंने खाना भी खाया और मुर्गियां ले गए। हमने इलाके का क्रिमिनल रिकॉर्ड भी चेक किया है, पिछले 10 सालों में ऐसी यह पहली वारदात है। हमे शक है कि यह किसी स्थानीय निवासी का काम हो सकता है।” दिलीप सिंह ने बताया कि आईपीसी की धारा 376 D और 39 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है और आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम तैयार कर ली गई है।

वीडियो: काले जाूद के चक्‍कर में तांत्रिक ने दे दी चार साल की बच्‍ची की बलि

एक पीड़िता के पति ने कहा, “हमलावर देसी कट्टा लेकर आए थे। उन्होंने कहा कि वह पुलिस वाले हैं और अवैध शराब की तलाशी लेने आए हैं। जब मैं बात करने के लिए बाहर आया तो उन्होंने मेरे साथ मारपीट की और मेरी पत्नी को बाहर निकाल लिया। फिर मेरे पड़ोसियों के साथ भी ऐसा किया। उन्होंने सभी पुरुषों को घर से करीब 20 मीटर दूरी पर बांध दिया फिर महिलाओं के साथ बारी-बारी से रेप किया।” उसने कहा कि वह घर से कीमती सामान और 20 हजार रुपए भी ले गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 3, 2016 8:54 am

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग