ताज़ा खबर
 

पुलिस ने लूटपाट के गिरोह का किया पर्दाफाश, खुद को कारखाने और होटल मालिक बताकर करते थे वारदात

उत्पाद बेचने वाली कंपनी के अधिकारी के पहुंचने पर आरोपी पहले से वहां खड़ी मर्सिडीज, आॅडी या बीएमडब्लू जैसी आलीशान कारों के मालिक होने का झांसा देकर वहीं खड़े होकर बातचीत करते।
Author नोएडा | August 8, 2017 04:16 am
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

नोएडा के थाना सेक्टर- 20 पुलिस ने एक गिरोह का पर्दाफाश किया है जो मोटर साइकिल पर बैठकर लूटपाट करने के अलावा गूगल पर खोज कर बड़े उद्योगपतियों को निशाना बनाता था। लुटेरे गूगल से नोएडा, दिल्ली, हरिद्वार, फरीदाबाद और गुडगांव की बहुराष्ट्रीय कंपनियों के निदेशक, सीईओ के मोबाइल नंबर पता कर लेते थे।  इन नंबरों पर फोन मिलाकर अपने आप को दिल्ली व गोवा में फैक्ट्री और होटल आदि का मालिक बताकर उनके उत्पाद खरीदने के बहाने उन्हें नामचीन होटलों में बुलाते थे। उत्पाद बेचने वाली कंपनी के अधिकारी के पहुंचने पर आरोपी पहले से वहां खड़ी मर्सिडीज, आॅडी या बीएमडब्लू जैसी आलीशान कारों के मालिक होने का झांसा देकर वहीं खड़े होकर बातचीत करते। यदि आने वाला व्यक्ति अकेला होता है तो उसे चाय आदि पीने के बहाने एकांत में ले जाकर रुपए, मोबाइल आदि छीनकर फरार हो जाते थे। गिरोह के एक आरोपी अक्षय उर्फ आशू (35) को गिरफ्तार किया। जबकि उसका साथी मोनू उर्फ हेमंत शर्मा फरार हो है।

गिरोह ने अब तक 68 से ज्यादा लूट की घटनाओं को अंजाम देने की बात कबूली है।पुलिस के मुताबिक रविवार देर रात निठारी चौहारे के पास जांच के दौरान चोरी की मोटरसाइकिल के साथ शातिर बदमाश अक्षय को गिरफ्तार किया। 8वीं पास अक्षय हरियाणा के हिसार का रहने वाला है। जबकि फरार मोनू खोड़ा कॉलोनी में रहता है। पूछताछ में पता चला कि आरोपियों ने डेढ़ महीने पहले एक युवती समेत 4 लोगों के साथ थाना सेक्टर- 20 इलाके में लूटपाट की है। 29 जून को गंगाराम मार्केट के पास सूर्यवीर नाम के व्यक्ति से 38 हजार रुपए लूटकर फरार हो गए थे। 27 जून को गिरोह ने सेक्टर- 16 मेट्रो स्टेशन के पास मनु वाधवा का लैपटॉप लूटा था। 24 जून को सेक्टर- 28 के पास मुकेश कुमार के गले से सोने की चेन झपटी, 18 जुलाई को भी सेक्टर- 25 निवासी सुरेश भाटिया की सोने की चेन पर हाथ साफ किया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग