ताज़ा खबर
 

पुलिस के सामने ही थाने में कर दी पड़ोसी की हत्या, एसएचओ पर गिरी गा

राजधानी के अांबेडकर नगर थाने के अंदर एक शख्स ने जांच अधिकारी के कमरे में अपने पड़ोसी की हत्या कर दी।
Author नई दिल्ली | August 23, 2017 03:19 am
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर। (Source: Agency)

राजधानी के अांबेडकर नगर थाने के अंदर एक शख्स ने जांच अधिकारी के कमरे में अपने पड़ोसी की हत्या कर दी। आरोपी और मृतक के बीच शराब पीने को लेकर हुए झगड़े के बाद पुलिस दोनों को थाने लेकर आई थी। थाने में जांच अधिकारी के कमरे में दोनों के बीच कहासुनी और हाथापाई हुई और फिर आरोपी ने अपने पड़ोसी को सुआ घोंप दिया। पुलिस ने आरोपी विशाल को गिरफ्तार कर लापरवाही बरतने के आरोप में थाने के एसएचओ को लाइन हाजिर करते हुए सब-इंस्पेक्टर ब्रह्म प्रकाश और कांस्टेबल अशोक को निलंबित कर दिया है। पुलिस के आला अधिकारियों की निगरानी में जांच चल रही है।

दक्षिण-पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त रोमिल बानिया ने बताया कि सोमवार देर रात 12.55 बजे दक्षिणपुरी बी-ब्लॉक से मिली झगड़े की सूचना के बाद पीसीआर की टीम दोनों युवकों अनिल और विशाल को लेकर अांबेडकर नगर थाने पहुंची। अनिल की बेटी के जन्मदिन पर विशाल अनिल से शराब पिलाने की जिद कर रहा था। इसी वजह से दोनों के बीच झगड़ा हो गया। झगड़े की सूचना मिलते ही पुलिस दोनों को लेकर थाने पहुंची, जहां जांच अधिकारी एसआइ ब्रह्म प्रकाश व सिपाही अशोक के सामने दौनों फिर झगड़ने लगे। थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने दोनों को अलग किया, लेकिन हाथापाई के दौरान विशाल ने अनिल को सुआ घोंप दिया। अनिल को तुरंत एम्स के ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे इलाज के दौरान मृत घोषित कर दिया।

जांच अधिकारी के कमरे में झगड़ा और सूआ घोंपने की सूचना मिलते ही आला अधिकारी ने तुरंत संज्ञान लेते हुए थाने के एसएचओ राकेश सिसोदिया को लाइन हाजिर करते हुए सब-इंसपेक्टर ब्रह्म प्रकाश और कांस्टेबल अशोक को निलंबित कर दिया। पुलिस के मुताबिक, मृतक अनिल उर्फ बंटी (32) कैब चालक था जबकि आरोपी विशाल निजी कंपनी में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है। वारदात के समय एसआइ व सिपाही कमरे में मौजूद नहीं थे। अनिल के परिवार में पत्नी एंजिला उर्फ लवली, दो बेटियां एंजल (12 ) व सोफिया (6)और दो साल का बेटा आर्यन हैं। अनिल खुद की ईको कैब चलाता था। सोमवार को अनिल की बेटी एजंल का जन्मदिन था, इसलिए उसके घर में पार्टी थी। इसी दौरान पड़ोसी युवक विशाल अनिल से शराब की पार्टी मांगने लगा। मना करने पर आरोपी ने वहां खड़ी मोटरसाइकिल को लात मार दी। इसी दौरान अनिल की पत्नी एंजिला भी वहां आ गई। विशाल ने लोहे की रॉड से हमला किया तो वह एंजिला को लग गया। इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी गई। पीसीआर दोनों को थाने ले आई, जहां उन्हें जांच अधिकारी ब्रह्म प्रकाश के पहली मंजिल स्थित कमरे में ले जाया गया। दोनों को वहीं छोड़कर ब्रह्म प्रकाश कुछ देर में आने की बात कह कर चला गया। इसके बाद सिपाही अशोक भी किसी काम से चला गया और अनिल व विशाल कमरे में अकेले बचे। दोनों के बीच फिर बहस शुरू हो गई और विशाल ने एसआइ की मेज पर रखे सुए से अनिल पर हमला कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग