April 30, 2017

ताज़ा खबर

 

नोएडा: टैंकर चालक की हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

सूचना मिलने पर पहुंची दमकल की 4 गाड़ियों ने करीब 1 घंटे में आग पर काबू पाया।

Author नोएडा | April 5, 2017 11:35 am
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

सेक्टर-63 के एफ ब्लॉक में सोमवार देर रात खाना बनाने के दौरान लगी आग से 26 झुग्गियां जलकर राख हो गर्इं, जिससे झुग्गियों में रहने वाले सैकड़ों लोग बेघर हो गए। सूचना मिलने पर पहुंची दमकल की 4 गाड़ियों ने करीब 1 घंटे में आग पर काबू पाया। आग लगने से गैस के तीन छोटे सिलेंडर फट गए। कई लोगों का झुग्गियों में रखा पूरे महीने का वेतन समेत सारा सामान जल गया।  अग्निशमन अधिकारी मामचंद बड़गूजर ने बताया कि सोमवार रात को सेक्टर-63 के एफ-365 के सामने बने पार्क की झुग्गियों में आग लग गई। खाना बनाने के दौरान एक झुग्गी से निकली चिंगारी को आग लगने की वजह बताया गया है। कुछ ही देर में आग 26 झुग्गियों तक फैल गई। हालांकि दमकल गाड़ियों के पहुंचने की वजह से 20 झुग्गियों को बचा लिया गया। झुग्गियों में मध्य प्रदेश, झारखंड और बिहार के लोग अपने परिवार के साथ रहते हैं, जो दिहाड़ी मजदूरी के अलावा सेक्टर-63, 64 की फैक्टरियों में भी काम करते हैं।

परीक्षाफल लेने स्कूल गए दो सगे भाई लापता

सेक्टर-58 से परीक्षाफल लेने निकले दो सगे भाई संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गए हैं। थाना सेक्टर-58 पुलिस ने 4 दिनों के बाद लापता हुए भाइयों के अपहरण का मामला दर्ज किया है। हालांकि शुरुआत में पुलिस ने दोनों के फेल होने के डर से कहीं चले जाने की आशंका जताई थी, लेकिन 4 दिनों तक नहीं लौटने पर अपहरण का मामला दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक, नागेंद्र सिंह सेक्टर-58 के ए ब्लॉक स्थित एक कंपनी में नौकरी करते हैं। मूल रूप से फतेहपुर निवासी नागेंद्र को कंपनी परिसर में ही रहने के लिए कमरा मिला हुआ है, जहां उनके दो बेटे अमन और अनुभव भी रहते थे। दोनों न्यू कोंडली स्थित सरकारी स्कूल में कक्षा 7 व 9वीं में पढ़ते हैं। 31 मार्च को दोनों भाई स्कूल से परीक्षाफल लेने के लिए निकले थे, लेकिन देर रात तक दोनों घर नहीं पहुंचे। थाना सेक्टर-58 पुलिस से शिकायत करने पर पुलिस ने रिश्तेदारों के घर तलाश करने की सलाह दी। साथ ही लापता भाइयों की फोटो और हुलिया देखकर गुमशुदगी की रिपोर्ट लिख ली। दोनों भाइयों के 4 दिन तक भी नहीं लौटने पर पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर दिल्ली-एनसीआर समेत यूपी के अन्य शहरों के थानों में इसकी जानकारी दी। बच्चों के पिता नागेंद्र सिंह ने बताया कि बैंक में जरूरी काम होने की वजह से वे स्कूल नहीं गए थे। दोनों भाई खाना खाने के बाद स्कूल के लिए निकले थे।

तीन छोटे सिलेंडर फटे, 26 झुग्गियां खाक

सेक्टर-79 में रविवार को वाहन हटाने को लेकर हुए विवाद में टैंकर चालक की हत्या के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। थाना सेक्टर-49 पुलिस ने मुख्य आरोपी धर्मेंद्र को मंगलवार को पकड़ा। हालांकि पीड़ित पक्ष ने 7 लोगों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कराया था, जिसमें बिल्डर कंपनी के दो मालिक भी शामिल हैं।  बता दें कि रविवार को सोहरखा निवासी नरेश यादव पानी का टैंकर लेकर सेक्टर-79 स्थित महागुन बिल्डर की निर्माणाधीन इमारत पर पहुंचा था। उसके गेट पर मिक्सचर ट्रक खड़ा था, जिसे हटाने को लेकर मिक्सचर ट्रक चालक धर्मेंद्र की नरेश से कहासुनी हो गई। नरेश की पत्नी भी साथ में थी। आरोप है कि नरेश की पत्नी को धक्का देकर बिल्डर कंपनी के दो मालिक, सुपरवाइजर संजय, सुरक्षाकर्मी रामबख्श, सुरेश और राम भजन ने उसे पीटना शुरू कर दिया। नरेश के गले में पेचकस घोंपने और पत्थर पर सिर पटकने से उसकी मौत हो गई थी। नरेश के बेटे राहुल यादव ने 7 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने रविवार को ही सुपरवाइजर संजय और सुरक्षाकर्मी सुरेश को गिरफ्तार कर लिया था।

 

राम जेठमलानी देश के सबसे महंगे वकील; जानिए दिल्ली के अन्य वकील कितनी लेते हैं फीस

 

ग्रेटर नोएडा में अफ्रीकी छात्रों पर हमला; सुषमा स्वराज ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से की बात

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on April 5, 2017 4:25 am

  1. No Comments.

सबरंग