ताज़ा खबर
 

नोएडा: सत्ता बदलते ही अफसरों के तेवर हुए कड़े

इस कड़ी में प्राधिकरण ने विकासशील परियोजनाओं को 100 दिनों में पूरा करने का नया लक्ष्य तय किया है।
Author नोएडा | April 5, 2017 04:07 am
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ। (File Photo)

उत्तर प्रदेश में निजाम बदलने के साथ ही तैनात अधिकारियों के भी तेवर कड़े हो गए हैं। यातायात, पार्किंग और आम लोगों से जुड़ी 5 अहम परियोजनाओं को अगले 100 दिनों में पूरा करने का लक्ष्य अधिकारियों को सौंपा गया है। तय समय में परियोजनाओं के पूरा नहीं होने पर संबंधित अधिकारी की जवाबदेही सुनिश्चित की गई है। माना जा रहा है कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा, ग्रेटर नोएडा समेत समूचे प्रदेश में औद्योगिक विकास को सरकार की प्राथमिकता बताया है। इस कड़ी में प्राधिकरण ने विकासशील परियोजनाओं को 100 दिनों में पूरा करने का नया लक्ष्य तय किया है।

नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक सेक्टर-18 में निर्माणाधीन 4 हजार कारों की क्षमता वाली मल्टी लेवल कार पार्किंग, शाहदरा नाले पर बने पुलों के चौड़ीकरण, मास्टर प्लान रोड नंबर-2 पर एलिवेटेड सड़क, सेक्टर-108 में बन रहे ट्रैफिक पार्क और सेक्टर-94 में बन रहे इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के लिए मध्य अगस्त तक की नई समय सीमा तय की गई है। इसके अलावा सेक्टर-94/95 और एनटीपीसी अंडरपास को भी इस अवधि में तय कराने के कड़े निर्देश दिए गए हैं। बताया गया है कि सपा सरकार के कार्यकाल में शहर के विकास से जुड़ी इन परियोजनाओं पर काम शुरू हुआ था। तय समय में परियोजनाएं पूरी नहीं होने के चलते मुख्य कार्यपालक अधिकारी दीपक अग्रवाल ने संबंधित वर्क सर्कलों के परियोजना अभियंताओं के साथ बैठक कर नया मास्टर प्लान तय किया है। इसमें उक्त 5 परियोजनाओं को हर हाल में 100 दिनों में पूरा करने की नई समयावधि तय की गई है। माना जा रहा है कि इन 5 परियोजनाओं के पूरा होने से शहर में यातायात और पार्किंग संबंधी समस्या का काफी हद तक समाधान हो जाएगा।

 

 

राम जेठमलानी देश के सबसे महंगे वकील; जानिए दिल्ली के अन्य वकील कितनी लेते हैं फीस

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग