ताज़ा खबर
 

आम्रपाली समेत 6 बिल्डरों पर 13 मामले दर्ज

खरीदारों ने बिल्डरों पर आरोप लगाया हैं कि पूरे पैसे लेने के बाद भी वे फ्लैट का कब्जा नहीं दे रहे। उनके साथ धोखाधड़ी व जालसाजी की गई। निवेशकों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।
Author नोएडा | September 3, 2017 04:11 am
दिल्‍ली विकास प्राधिकरण द्वारा बनाए गए फ्लैट्स। (Source: Express Archive)

अपना घर का सपना दिखा कर निवेशकों की गाढ़ी कमाई पर डाका डालने वाले बिल्डरों पर शिकंजा कसा जाने लगा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सख्ती के बाद निवेशकों की शिकायत पर मामले दर्ज किए जा रहे हैं। नोएडा और ग्रेटर नोएडा में छह बिल्डरों के खिलाफ निवेशकों ने विभिन्न थानों में 13 मामले दर्ज कराए हैं। इसमें बिसरख कोतवाली में ग्रेटर नोएडा वेस्ट में आम्रपाली ग्रुप के आठ प्रोजेक्ट, सुपरटेक, टुडे होम, अल्पाइन रियलटेक, बीआरयूआइ प्राइवेट लिमिटेड, जेएनसी, द पार्क एवेन्यू आदि बिल्डरों के निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया हैं। खरीदारों ने बिल्डरों पर आरोप लगाया हैं कि पूरे पैसे लेने के बाद भी वे फ्लैट का कब्जा नहीं दे रहे। उनके साथ धोखाधड़ी व जालसाजी की गई। निवेशकों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

बिसरख कोतवाली समेत अलग-अलग थानों में बिल्डरों के खिलाफ मामले दर्ज हुए हैं। बिसरख कोतवाली क्षेत्र में आम्रपाली के रिवर्स और ड्रीम वैली के निवेशकों ने समय पर घर नहीं मिलने पर धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज कराया हैं। कोतवाली में मामला दर्ज कराने पहुंचे सर्वेश कुमार ने बताया कि उन्होंने 2012 में फ्लैट बुक कराया था। इसके के लिए 60 फीसद पैसा जमा कर दिया है।

सर्वेश कुमार ने बताया कि वे निजी कंपनी में काम करते हैं और दिल्ली में किराए के मकान में रहते हैं। आम्रपाली के रिवर्स प्रोजेक्ट में लैट बुक कराया था, पांच साल बीतने के बाद भी अभी काम शुरू नहीं हुआ हैं। इसके अलावा आम्रपाली के एक और निवेशक मोमरीन ने भी फ्लैट बुक कराया था। लेकिन साइट पर काम शुरू नहीं हो पाया हैं। मोमरीन ने बताया कि उनका पैसा भी फंसा हुआ हैं। आम्रपाली के दफ्तर में शिकायत करने जाते तो उनको भगा दिया जाता था।
निवेशकों के अनुसार लगभग सात हजार पांच सौ लोगों ने घर बुक कराया था। पुलिस ने आम्रपाली के निदेशक सहित दो और लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इनमें आम्रपाली के प्रबंध निदेशक अनिल कुमार शर्मा, शिव प्रिय, मोहित गुप्ता के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया हैं। सुपरटेक के इको विलेज-दो प्रोजेक्ट के खरीदारों ने भी कंपनी के प्रबंध निदेशक व निदेशक के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। इसी तरह टुडे होम्स, अल्पाइन, सीएनजी, अल्पाइन रियलटेक, बीआरयूआइ प्रा. लिमिटेड, जेएनसी द पार्क एवन्यू आदि बिल्डरों के खिलाफ पुलिस ने निवेशकों के शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है।

एसएसपी को दिए गए थे निर्देश
दो दिन के दौरे पर आए मंत्रियों की समिति के अध्यक्षता कर रहे संसदीय कार्य व शहरी विकास मंत्री ने कहा था कि एसएसपी को निर्देश दिया गया है कि निवेशकों की शिकायत पर तुरंत मामला दर्ज करें और साथ ही उनके खिलाफ कार्रवाई भी करें। इसी दौरान निवेशकों ने बिल्डरों के खिलाफ शिकायत दे दी थी। इसके बाद पुलिस ने फौरन मामले दर्ज किए।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.