ताज़ा खबर
 

नोएडा: स्टूडेंट का आरोप, बस स्टॉप छोड़ने के बहाने चलती कार में बनाया हवस का शिकार

छात्रा कार को रोकने के लिए चिल्लाती रही लेकिन आरोपियों ने उसकी एक न सुनी।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी की द्वितीय वर्ष की एक छात्रा ने अपने दोस्त पर लिफ्ट देने के बहाने रेप करने का आरोप लगाया है। यह घटना मंगलवार की है। पीड़िता द्वारा पुलिस को दिए गए बयान के अनुसार आरोपी अपनी बहन को यूनिवर्सिटी में छोड़ने के लिए आता था। उसी दौरान छात्रा की आरोपी से मुलाकात हुई और दोनों दोस्त बन गए। छात्रा ने बताया कि 25 वर्षीय आरोपी ने बेंगलुरु के एक प्राइवेट कॉलेज से बीटेक किया है। दोनों सोशल मीडिया पर भी एक दूसरे के साथ कनेक्ट थे। आरोपी छात्रा से शादी करना चाहता लेकिन छात्रा ने शादी करने से इनकार कर दिया था।

घटना वाले दिन छात्रा यूनिवर्सिटी कैंपस के बाहर घर जाने के लिए किसी वाहन का इंतजार कर रही थी कि तभी आरोपी अपनी एसयूवी कार लेकर वहां पहुंच गया। आरोपी ने छात्रा को गलगोटिया यूनिवर्सिटी के बस स्टैँड पर छोड़ने की बात कही और छात्रा ने प्रस्ताव मंजूर कर लिया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी के साथ उसके दो दोस्त भी कार में मौजूद थे। आरोपी ने बस स्टैंड पर कार नहीं रोकी। उसने कार को यमुना एक्सप्रेसवे पर बने बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट के फॉर्मूला 1 रेस ट्रेक की तरफ मोड़ लिया, जहां पर उस समय कोई मौजूद नहीं था। आरोपी का एक दोस्त गाड़ी चला रहा था जब्कि दूसरा दोस्त उसके साथ वाली सीट पर बैठा हुआ था।

कार में आरोपी ने छात्रा के साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की। छात्रा कार को रोकने के लिए चिल्लाती रही लेकिन आरोपियों ने उसकी एक न सुनी। इसी बीच छात्रा ने 100 नंबर पर फोन करने की कोशिश की तो आरोपी ने उसका फोन छीन लिया। छात्रा ने पुलिस को बताया कि आरोपी के दोस्त ने गाड़ी को एक सुनसान जगह पर रोक दिया और दोनों दोस्त गाड़ी से उतरकर चले गए, जिसके बाद आरोपी ने छात्रा के साथ रेप किया। रेप करने के बाद आरोपी छत्रा को गलगोटिया यूनिवर्सिटी के बस स्टैंड पर छोड़कर वहां से फरार हो गए।

इस घटना की जानकारी छात्रा ने अपने दोस्तों को दी जिन्होंने आरोपी के खिलाफ मंगलवार को शिकायत की लेकिन पुलिस ने बुधवार को केस दर्ज किया जब पीड़िता अपने परिवार के साथ पुलिस थाने पहुंची। दनकौर पुलिस थाने के एसएचओ ने कहा कि इस मामले में आरोपी के खिलाफ धारा 376 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। अधिकारी ने बताया कि हम आरोपी को पकड़ने के लिए उसके घर गए थे लेकिन वह वहां नहीं मिला। उन्होंने कहा कि हम जल्द ही आरोपी को ढूंढकर गिरफ्तार कर लेंगे।

देखिए वीडियो - ग्रेटर नोएडा में हमले की दूसरी वारदात; नाइजीरियाई लड़की को ऑटो से उतारकर बुरी तरह पीटा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.