ताज़ा खबर
 

चुनाव से पहले अखिलेश सरकार का बड़ा फैसला: SC में शामिल हो सकती हैं 17 पिछड़ी जातियां

गुरुवार को इन पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव पर कैबिनेट की मुहर लगाई गई।
CM अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले अखिलेश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने 17 पिछड़ी जातियों को SC में शामिल करने का फैसला लिया है। गुरुवार को इन पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव पर कैबिनेट की मुहर लगाई गई। इसके अलावा बैठक में 353 किलोमीटर के समाजवादी एक्सप्रेस वे के एस्टीमेट को कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है। इसके लिए 40 फीसदी जमीन का अधिग्रहण भी किया जा चुका है।

मायावती का निशाना:

सीएम अखिलेश यादव के इस फैसले पर बसपा प्रमुख मायावती भी जमकर बरसी और इसे जनता के साथ धोखा बताया। मायावती ने कहा- “बीएसपी ने यह प्रस्ताव पहले ही भेजा था। ओबीसी को एससी में डालना धोखा है, इससे दलित कोटे का दायरा बढ़ेगा।” भारतीय जनता पार्टी ने यूपी सरकार के इस फैसले पर यह कहते हुए निशाना साधा कि यह अखिलेश सरकार का राजनीतिक कदम है, जो आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए उठाया गया है।

प्रदेश सरकार अब यह प्रस्ताव अनुमति के लिए केंद्र सरकार को भेजेगी। जिन उप जातियों को अनुसूचित जाति (SC) में शामिल किया जाना है वो OBC की अति-पिछड़ी जातियों में आती हैं। राज्य सरकार ने यह प्रस्ताव 2013 में भी भेजा था। उस समय केंद्र ने इसे खारिज कर दिया था।

ये होंगीं जातियां: कहार, निषाद, कुम्हार, धीवर, बिंद, बाथम, मांझी, मधुआरा, कश्यप, केवट, मल्लाह, तुरहा, भर, गोंड, प्रजापति, राजभर को एससी में शामिल किया जाएगा।

17 ओबीसी जातियों को एससी वर्ग में शामिल करने के अखिलेश यादव कैबिनेट के फैसले की जमीनी हकीकत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. D
    dev
    Dec 22, 2016 at 7:26 am
    Vote k liye kya kya nahji kar sakte ye log
    (0)(0)
    Reply