ताज़ा खबर
 

यूपी बोर्ड परीक्षा 2017: सामूहिक नकल करते कैमरे में कैद स्टूडेंट्स, कोई बुक से तो कोई दूसरे की कापी से कर रहा था चीटिंग, लड़कियां भी नहीं रहीं पीछे

UP Board exams 2017: नकल रोकने के लिए यूपी बोर्ड, इलाहाबाद की ओर से सीसीटीवी कैमरों का इंतेजाम किया गया था। लेकिन, रिपोर्ट के मुताबिक या तो कैमरे चल नहीं रहे हैं या फिर अपर्याप्त हैं।
यूपी में सामूहिक नकल करते हुए कैमरे में कैद हुए स्टूडेंट्स। (ANI Photo)

बिहार के सामूहिक नकल का मामला सामने आने के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी बोर्ड की परीक्षा में सामूहिक नकल का मामला सामने आया है। एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को यूपी के बलिया में कुछ स्टूडेंट्स गणित के पेपर में एक-दूसरे की कॉपी करते हुए कैद हुए। वहीं, कुछ अन्य प्रश्नों का जवाब किताब से नकल करते हुए पकड़े गए। कुछ ऐसा ही मामला मथुरा के राधा गोपाल हायर सेकेंडरी स्कूल में भी सामने आया। यहां नकल माफिया एग्जाम हॉल में घुस कर गणित के पेपर में बच्चों को चिट (पर्ची) दे रहा था। बोर्ड परीक्षा में सामूहिक नकल के मामले पहले भी सामने आ चुके हैं। पिछले साल मथुरा के एक स्कूल में बोर्ड एग्जाम के दौरान कॉपी पास करते हुए सैकड़ों परीक्षार्थी कैमरे में कैद हुए थे।

नकल रोकने के लिए यूपी बोर्ड, इलाहाबाद की ओर से सीसीटीवी कैमरों का इंतेजाम किया गया था। लेकिन, रिपोर्ट के मुताबिक या तो कैमरे चल नहीं रहे हैं या फिर अपर्याप्त हैं। वहीं, एचटी की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि यूपी बोर्ड ने उन परीक्षार्थियों की आंसरशीट पुन-परीक्षण करने का फैसला किया है। जिनके क्लास 10th और 12th में 90 प्रतिशत से ज्यादा अंक आएंगे।

गौरतलब है कि बिहार में पिछले साल आयोजित 12वीं की बोर्ड परीक्षा में बड़े पैमाने पर सामूहिक नकल का पर्दाफाश हुआ था। साल 2016 में इंटर आर्टस की टॉपर रूबी राय घोषित की गयी थी। टॉपर बनने के बाद मीडिया ने जब रूबी राय से सवाल पूछे तो कैमरे के सामने रूबी ने जो कुछ कहा, उसने परीक्षा की पूरी पोल खोलकर रख दी। यह बात भी उजागर हुई कि न केवल आर्ट्स, बल्कि साइंस के टॉपर की भी उत्तरपुस्तिकाओं में छेड़छाड़ की गयी थी। इस मामले में पुलिस ने बीएसईबी के पूर्व अध्यक्ष लालकेश्वर सिंह, उनकी पत्नी व प्रदेश में सत्तासीन पार्टी जदयू की पूर्व विधायक उषा सिन्हा, बीएसईबी के पूर्व सचिव हरिहर नाथ झा, वैशाली जिला स्थित विशुन राय कॉलेज के प्राचार्य बच्चा राय सहित करीब तीन दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया था।

सुलतानपुर में व्हॉट्सऐप पर टीचर ने लीक किया पेपर
बेसिक शिक्षा विभाग ने सोशल मीडिया के जरिये प्रश्नपत्र लीक करने के मामले में एक शिक्षक को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही सोशल मीडिया पर व्यस्त रहने वाले शिक्षकों को नोटिस जारी करके उनसे स्पष्टीकरण तलब किया गया है। शनिवार को दुबेपुर ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय सेमरघाट में कक्षा 4 के छात्रों की हिंदी की परीक्षा चल थी, जहां तैनात सहायक अध्यापक बृजेश पांडे ने परीक्षा से पहले ही मोबाइल से वाट्सएप के एक ग्रुप पर प्रश्नपत्र प्रसारित कर दिया, जिसके बाद जिले के बेसिक शिक्षा अधिकारी कौस्तुभ कुमार ने इसे गंभीरता से लेते हुए तत्काल प्रभाव से परीक्षा रद्द कर दी।

“2017-18 से फिर से शुरू होगी CBSE स्कूलों की दसवीं की बोर्ड परीक्षा”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग