ताज़ा खबर
 

भाजपा के लोग चालू और होशियार हैं : अखिलेश यादव

पहले भारत माता की जय बोलते थे और अब भारत माता को भूलकर किस रास्ते पर ले जाना चाह रहे हैं।’
Author लखनऊ | October 30, 2016 03:58 am
उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भाजपा पर हमला बोलते हुए शनिवार कहा कि भाजपा के लोग बहुत चालू हैं और ‘भारत माता’ को भूलकर देश को किसी और रास्ते पर ले जाना चाह रहे हैं। अखिलेश ने यहां विभिन्न बिजली परियोजनाओं का लोकार्पण करते हुए कहा, ‘हमने उत्तर प्रदेश को बदला है। समाजवादियों ने प्रदेश को विकास और खुशहाली के रास्ते पर ले जाने का काम किया है लेकिन भाजपा के लोग बहुत होशियार और चालू हैं।’
उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लिए बिना दशहरे के मौके पर राजधानी में दिए गए उनके भाषण का उल्लेख करते हुए कहा, ‘दशहरे के दिन (मोदी) क्या नारा दे गए। पहले भारत माता की जय बोलते थे और अब भारत माता को भूलकर किस रास्ते पर ले जाना चाह रहे हैं।’

अखिलेश ने कहा कि भाजपा के लोग दावा कर रहे हैं कि उत्तर प्रदेश में अगली सरकार बनाएंगे लेकिन भाजपा के पास खुद की ताकत नहीं है, ‘हमसे कहते थे कि पांच मुख्यमंत्री हैं, साढे पांच मुख्यमंत्री हैं। (भाजपा के लोग) कम से कम एक (मुख्यमंत्री) तो ढूंढकर लाओ।’ मुख्यमंत्री ने हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल हुए अपनी सरकार की उपलब्धियों के वीडियो ‘काम बोलता है’ का भी परोक्ष उल्लेख किया, ‘काम में हमारा कोई मुकाबला नहीं कर सकता। समाजवादी मुंह पर बोलते हैं कि काम बोलता है।’

समाजवादी पार्टी संकट: अखिलेश-शिवपाल की लड़ाई पर भावुक हुए मुलायम; जानिए क्या सोचती है यूपी की जनता

उन्होंने कहा कि भाजपा सर्जिकल स्ट्राइक की चर्चा कर रही है जबकि इस तरह की सर्जिकल स्ट्राइक हमेशा होती रही है। भाजपा के लोग देश को कैसे गुमराह कर रहे हैं और किस रास्ते पर ले जाना चाहते हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि आने वाले समय में चुनाव हैं। सामने तमाम नेता हैं। बसपा की सरकार ने इसी शहर में हाथी लगाए। नौ साल में जो हाथी बैठे हैं, बैठे ही हैं, खडेÞ नहीं हुए जबकि जो हाथी खडेÞ हैं, बैठे नहीं। धन की बेइंतहा बर्बादी की गई।
इशारों इशारों में वह प्रदेश में अगली सरकार समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने की बात कह गए और इसे दीवाली पर्व से जोड़ते हुए बोले कि आने वाले समय में समाजवादी दो-दो दीवाली मनाएंगे। उन्होंने कहा कि अब शहरों को 24 घंटे बिजली देंगे और गांवों में भी चौबीसों घंटे बिजली देने का लक्ष्य लेकर हम चल रहे हैं। बिजली आपूर्ति कैसे बेहतर हो, इसका रास्ता निकालना है। कटिया हो, तार टूटे या कोई खराबी हो तो उसे कैसे दुरुस्त किया जाए, ये सोचना है।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग