ताज़ा खबर
 

नोट बंद करने पर मुलायम सिंह की मोदी सरकार से अपील- एक हफ्ते के लिए टाला जाए फैसला

सपा प्रमुख ने कहा कि वह भी हमेशा से कालेधन के खिलाफ रहे हैं। लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले से गंभीर स्थिति पैदा हुई है और आम लोग नोट बंद होने से परेशान हैं।
समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने केंद्र सरकार के 500 और 1000 रुपए को बंद करने के फैसले पर असहमती जताई है और कहा है कि इस फैसले को टाल दिया जाए। मुलायम सिंह ने कहा कि फैसले से आम लोगों को दिक्कत उठानी पड़ रही है, ऐसे में कम से कम एक हफ्ते के लिए इस फैसले को टाला जाए। उन्होंने कहा कि वह भी हमेशा से कालेधन के खिलाफ रहे हैं। लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले से गंभीर स्थिति पैदा हुई है और आम लोग नोट बंद होने से परेशान हैं।

गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि राम मनोहर लोहिया के बाद अगर किसी ने कालेधन के खिलाफ सच्ची लड़ाई लड़ी है तो वह समाजवादी पार्टी ही थी। मुलायम सिंह ने कहा कि “हम भी चाहते हैं देश में कालाधन वापस आए और इसका इस्तेमाल देश के विकास में हो। हम नहीं चाहते कि चुनाव में कोई भी पार्टी कालेधन का इस्तेमाल करे। मुलायम सिंह ने कहा, “भाजपा ने चुनाव प्रचार के दौरान कालाधन वापस लाने का फैसला किया था। लेकिन आम लोगों का कालेधन को लेकर दबाव पड़ने के बाद उन्होंने नोटों पर ही बैन लगा दिया। केंद्र सरकार ने इस फैसले से पूरे देश में अराजकता फैला दी है। आम लोग रोजमर्रा का सामान भी नहीं खरीद पा रहे।”

नए रंग, नए डिज़ाइन के साथ फिर से आएंगे 1000 रुपए के नोट, वित्त मामलों के सचिव का बयान

इससे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी केंद्र सरकार के इस फैसले पर गुरुवार को एक प्रेंस कॉन्फ्रेंस की। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि इससे सरकार ने आर्थिक आपातकाल जैसी स्थिति पैदा कर दी है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने अपने आने वाले कई सालों का इंतजाम कर लिया है और देश में नोटों की बंदी लगा दी। उन्होंने कहा कि इससे आम लोगों को ही दिक्कत होगी, क्योंकि सरकार ने धन्ना सेठों का पैसा विदेश पहुंचा दिया है। गौरतलब है कि भ्रष्टाचार, काले धन और जाली नोटों पर लगाम कसने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 नवंबर को ऐलान किया था कि देशभर में 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद किए जाएंगे। वहीं इनकी जगह 500 और 2000 रुपए के नए नोट जारी किए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S
    Sukhbir Singh
    Nov 11, 2016 at 5:44 am
    KITNE KAMINE LOG HAIN, AB FAT GAI SAAAALON KI
    (0)(0)
    Reply
    1. A
      Asif choudhary
      Nov 10, 2016 at 6:01 pm
      Ek hafte me ye bhi apna intezam kar lenge
      (0)(0)
      Reply
      1. R
        Rakesh Balyan
        Nov 10, 2016 at 11:06 am
        पारिवारिक कलह की वजह से मुलायम सिंह और इस ग़लतफ़हमी की वजह से समय नहीं मिला की रूपया तो बंद हो नहीं सकता? तो ३० सितंबर तक पैर फटकार कर सोते रहे ? बिना बताये मोदीजी सर्जिकल स्ट्राइक कर दी ? अब चुनाव के लिए पैसा कहाँ से आएगा ? अखिलेश ने सुझाव दिया है की रुपये एक्सचेंज करने के लिए एक्स्ट्रा काउंटर लगा जाएँ जिससे लोगों को कम से कम परेशानी हो जिससे अपना काला धन जनता की मदद से सफ़ेद कर सकें/ वाह मान गए अखिलेश जी कहाँ लगवाने एक्स्ट्रा काउंटर्स ? सैफई में या लखनऊ पार्टी ऑफिस में ?
        (0)(0)
        Reply
        1. M
          mohan
          Nov 10, 2016 at 8:52 am
          मुलायम सिंह यादव एंड को पार्टी को जोर का झटका लगा दिया मोदी जी ने
          (0)(0)
          Reply
          1. M
            manoj
            Nov 10, 2016 at 11:48 am
            गरीब के नाम पर इतनी बेशर्मी ? गरीब तो शिकायत नहीं कर रहा है ? केवल पोलिटिकल पार्टीज कर रहीं हैं ? सब को पता है काल धन कहाँ है ? मोदीजी ने हिम्मत दिखाई तो अब शिकायत कर रहे हैं ? जब मौका मिला तहत घोसित करने का तब सवाल पूछ रहे थे " कला धन कहाँ है" अब एक्शन ले लिया तो भी शिकायत ?
            (1)(1)
            Reply
            1. V
              Vijay
              Nov 11, 2016 at 1:34 am
              एक हफ्ते में तो मुल्ला जी, मायावती और बादल साहिब सारा पैसा बराबर कर देंगे. मोदी जी ने बिलकुल ी किया है. लोगों को कुछ तंगी होगी फिर सब ठीक हो जायेगा. आज तीसरा दिन है और चीज़ें सुधर रही हैं.
              (1)(0)
              Reply
              1. Y
                Yogesh Pratap Singh
                Nov 11, 2016 at 8:14 am
                एक वीक का समय मागते हो इतने में तो नेताजी पूरा खेल / खेल जाओगे /जनता को इतना समझते हो क्या.हम आम जनता को कोई परेशानी नहीं हो रही है.आप,बसपा,एसएसपी का मतलब पूरा देश नहीं होता है,इस बात को इन पार्टी वालो को जान लेना चाहिए.बात बात में कहते हो की पूरा देश जानना चाहता है,यह गलत बात है,इस चुनाव में जनता बतायेगी की KAUN SACHA KAUN झूठ..जय हिन्द
                (0)(0)
                Reply
                1. Load More Comments
                सबरंग