December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

“अगर मायावती चुनाव लड़ती हैं तो उनके खिलाफ मैदान में होंगी राखी सावंत”

मोदी के मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (RPI) के प्रमुख रामदास अठावले ने कहा कि उनकी पार्टी मायावती के खिलाफ राखी को उतारेगी।

राखी सावंत पहले भी असम में आरपीआई के लिए चुनाव प्रचार कर चुकी हैं।

केंद्रीय मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (RPI) के प्रमुख रामदास अठावले ने रविवार को कहा कि उनकी पार्टी भाजपा के साथ गठबंधन में आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ने का मन बना रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि यदि बसपा प्रमुख मायावती चुनाव लड़ती हैं तो उनके खिलाफ अभिनेत्री राखी सावंत को उतारने पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि “मायावती काफी समय से स्वयं चुनाव लड़ने से बच रही हैं चाहे वह विधानसभा चुनाव हो या लोकसभा चुनाव। हम देखना चाहेंगे कि क्या वह इस बार चुनाव लड़ने जा रही है। यदि वह चुनाव लड़ती हैं तो हम उस सीट से राखी सावंत को खड़ा करेंगे जहां से मायावती चुनाव लड़ती हैं।”

अठावले ने संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी ‘‘भाजपा नीत राजग का एक अभिन्न हिस्सा है। इसलिए हम इस पार्टी के गठबंधन में आगामी विधानसभा चुनाव लड़ना चाहेंगे। लेकिन अगर ऐसा गठबंधन नहीं होता तो आरपीआई आगे बढ़ेगी और 200 से अधिक सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी।’’ केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री अठावले ने कहा, “हमें लगता है कि यह आवश्यक है क्योंकि उत्तर प्रदेश के दलित बसपा से ठगा सा महसूस कर रहे हैं और वे विकल्प तलाश रहे हैं।”

बता दें कि राखी सावंत पहले भी असम में आरपीआई के लिए चुनाव प्रचार कर चुकी हैं। उन्होंने 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान अपनी पार्टी भी बनाई थी और चुनाव लड़ा था। उनकी पार्टी का नाम ‘राष्ट्रीय आम पार्टी’ था। उन्होंने महिला सुरक्षा के मुद्दे को लेकर चुनाव लड़ा था। 500-1000 के नोट बैन पर अठावले बोले कि पीएम मोदी ने यह फैसला उनके लिए लिया है, जिनके पास काला धन है। 30 दिसंबर के पहले ही पता चल जाएगा कि किसके पास काला धन है। समाजवादी पार्टी के भीतर चल रही तकरार पर बोले कि इससे पार्टी कमजोर हुई है। ऐसे मे मुस्लिम वोटो पर उसकी पकड़ कमजोर पड़ी है। इन सब बातो को देखते हुए अब आरपीआई प्रदेश मे आंदोलन शुरू करेगी।

यूपी चुनाव सर्वे: BJP सबसे आगे, मायावती मुख्यमंत्री पद के लिए पहली पसंद

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 14, 2016 3:55 pm

सबरंग