ताज़ा खबर
 

रामगोपाल ने मुलायम पर लगाया अखिलेश से ‘जलने’ का आरोप,कहा-हर पिता चाहता है उसका बेटा उससे अच्छा करे,लेकिन…

पार्टी से निकाले जा चुके राम गोपाल यादव ने मुलायम सिंह पर आरोप लगाया कि वह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से 'जलते' हैं।
रामगोपाल यादव

समाजवादी पार्टी (सपा) में चल रही टेंशन मंगलवार (25 अक्टूबर) को भी जारी रही। पार्टी से निकाले जा चुके राम गोपाल यादव ने मुलायम सिंह पर आरोप लगाया कि वह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से ‘जलते’ हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, रामगोपाल ने कहा कि मुलायम अखिलेश की पॉपुलेरिटी देखकर जलते हैं। इसके अलावा रामगोपाल ने यह भी कहा कि अखिलेश के बिना समाजवादी पार्टी नहीं चल सकती। रामगोपाल ने आगे कहा कि अखिलेश को फिर से मुख्यमंत्री बनाना उनका मकसद है। रामगोपाल ने कहा, ‘हर पिता चाहता है कि उसका बेटा उससे अच्छा करे। लेकिन यहां उल्टा हो रहा है। ऐसा नहीं होना चाहिए। यह दुखद है।’

वीडियो: पार्टी मीटिंग के दौरान एक दूसरे से माइक छीनने लगे अखिलेश और शिवपाल; दोनों के बीच हुई धक्कामुक्की

इस पॉलिटिकल ड्रामा में सपा के मुखिया मुलायम सिंह यादव और उनके भाई शिवपाल यादव एक तरफ हैं वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके चाचा रामगोपाल यादव दूसरी तरफ। रामगोपाल यादव अमर सिंह को पार्टी में हो रही खींचतान का जिम्मेदार बता चुके हैं। गौरतलब है कि पिछले महीने ही मुलायम सिंह ने अमर सिंह को पार्टी में वापस लेकर उन्हें राष्ट्रीय महासचिव बनाया था। इससे पहले वह छह साल तक पार्टी से बाहर रहे थे। रामगोपाल ने अपने आपको असली सिक्का बताते हुए कहा, ‘खोटे सिक्के ने असली सिक्के को मार्केट से बाहर कर दिया।’

Read Also: सचिवालय में क्‍लर्क थीं मुलायम सिंह की दूसरी पत्‍नी साधना, 2012 में पति से लिया था अपने बेटे को अखिलेश के बराबर दर्जा देने का वादा

गौरतलब है कि इससे पहले रविवार का दिन समाजवादी पार्टी के लिए काफी उठापटक वाला रहा था। उस दिन अखिलेश यादव ने अपने चाचा शिवपाल समेत चार लोगों को मंत्रीमंडल से बर्खास्त कर दिया था। इसके जवाब में मुलायम सिंह यादव ने अपने भाई रामगोपाल यादव को छह साल के लिए पार्टी से बाहर निकाल दिया था। मुलायम सिंह ने दोनों को एक मंच पर बुलाकर सुलह करवाने की कोशिश भी की थी लेकिन वह बेकार गई। दोनों के बीच स्टेज पर ही थक्का-मुक्की हो गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.