January 23, 2017

ताज़ा खबर

 

युवाओं को न रोजगार मिला न जनधन का पैसा : राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार के अभी तक के कार्यकाल के बावजूद देश का युवा बेरोजगारी का दंश झेल रहा है।

Author मुजफरनगर | October 5, 2016 06:26 am
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (पीटीआई फाइल फोटो)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार के अभी तक के कार्यकाल के बावजूद देश का युवा बेरोजगारी का दंश झेल रहा है। जनधन योजना का लाभ भी किसी व्यक्ति को मिलता नजर नहीं आ रहा। यूपी में गन्ना किसान आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है। राहुल गांधी मंगलवार को मुजफ्फरनगर मे रोड शो के बाद बघरा बस स्टैंड पर रोड शो के दौरान उमड़ी भीड़ को संबोधित किया। गांधी ने बस यात्रा के दौरान बस में से ही भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र में काबिज मोदी सरकार का करीब ढाई साल का कार्यकाल पूरा हो चुका है। इसके बावजूद जनधन योजना का पैसा अभी तक लोगों के खाते मे नहीं पहुंच पाया है।

गांधी ने इस दौरान मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि इस सरकार में न तो युवाओं को रोजगार मिल पा रहा है और न ही मोदी सरकार की जनधन योजना का लाभ मिलता नजर आ रहा है। उन्होंने यूपी सरकार को निशाने पर रखते हुए कहा कि प्रदेश मे गन्ना किसान संकट से गुजर रहा है। एक साल से किसानों का गन्ना भुगतान ना हो पाने के कारण किसानो को आर्थिक संकट से जूझना पड़ रहा है। उन्होंने सरकार व मिल मालिकों पर मिली भगत का आरोप लगाया।  राहुल गांधी मंगलवार को शहर में रोड शो करने के बाद सीधे बघरा की ओर रवाना हुए। अपने वाहन से ही राहुल ने किसानों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने से पहले मोदी ने देश की जनता से तमाम वायदे किए थे, लेकिन उनमें से एक भी पूरा नहीं हुआ।

गांधी ने कहा कि आज देश की जनता परेशान है। मोदी ने जनता से झूठ बोला है। हर व्यक्ति के खाते में 15-15 लाख रुपए भेजने का भरोसा दिया था। 15 लाख रुपए के बदले उन्होंने देश को 15 ऐसे उद्योगपति दिए, जो सरकार चला रहे हैं।  राहुल ने कहा कि मोदी व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इन पंद्रह उद्योगपतियों का एक लाख 10 हजार करोड़ रुपए का कर्ज माफ किया है, जबकि इस पैसे से किसानों का कर्ज माफ किया जाना चाहिए था। ऐसे ही यूपी में किसानों के बकाया का भुगतान तो नहीं हो सका सरकार ने चीनी मिलों का ब्याज माफ कर दिया।  2008 में यूपीए सरकार ने दस दिन के भीतर किसानों के कर्ज के रूप में 70 हजार करोड़ रुपए माफ किए थे। इस दौरान उन्होंने सपा व बसपा पर भी व्यंगात्मक टिप्पणी की। अखिलेश साइकिल में पैडल मारते रहे और उनके मंत्री घोटाले करने में लगे रहे। ऐलान किया कि अगर कांग्रेस की यूपी व केंद्र में सरकार बनी तो दस दिन में किसानों के कर्जे माफ कर दिए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 5, 2016 6:26 am

सबरंग