April 28, 2017

ताज़ा खबर

 

प्रधानमंत्री मोदी को शहीद जवानों के माता-पिता से करनी चाहिए मुलाकात: मुलायम सिंह

सपा मुखिया ने समाजवादी रथयात्रा की शुरुआत के मौके पर शहीदों को भी याद करते हुए कहा कि वह सीमा पर शहीद हो रहे जवानों के माता-पिता को नमन करते हैं।

Author लखनऊ | November 3, 2016 16:08 pm
लखनऊ में सीएम अखिलेश यादव की समाजवादी रथयात्रा की शुरुआत के मौके पर सपा मुखिया मुलायम सिंह। (Photo: PTI)

समाजवादी पार्टी (सपा) मुखिया पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव ने गुरुवार को प्रधानमंत्री को सीमा पर शहीद हो रहे जवानों के माता-पिता से मुलाकात करने की सलाह देते हुए कहा कि वह नहीं चाहते कि भारत और पाकिस्तान के बीच जंग हो। इस मसले का हल बातचीत से ही निकाला जाना चाहिये। सपा मुखिया ने अपने पुत्र एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की विकास से विजय की ओर समाजवादी रथयात्रा की शुरुआत के मौके पर शहीदों को भी याद करते हुए कहा कि वह सीमा पर शहीद हो रहे जवानों के माता-पिता को नमन करते हैं। उन्होंने कहा, “मैं चाहता हूं कि प्रधानमंत्री जी आप ऐसे मां-बाप से मिलें, जिनके बेटे देश की रक्षा के लिये शहीद हो गये।”

यादव ने कहा कि भारतीय फौज कोई मामूली सेना नहीं है। हमें विश्वास है कि दुनिया की सबसे बहादुर सेना हिन्दुस्तान की है। लद्दाख में हमारे जवान किन परिस्थितियों में देश की रक्षा करते हैं, वह रक्षामंत्री रहते हुए सब देख चुके हैं। उन्होंने कहा, “सीमा पर हमारे जवान शहीद हो रहे हैं। हम नहीं चाहते कि हिन्दुस्तान पाकिस्तान का युद्घ हो, यह भी नहीं चाहते कि जवान शहीद हों। हम चाहते हैं कि इसका बातचीत से हल निकले।”

वीडियो में देखिए, समाजवादी पार्टी की ‘विकास रथ यात्रा’ में एक साथ दिखे अखिलेश, शिवपाल और मुलायम; चुनाव प्रचार अभियान की हुई शुरुआत

इसके पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सत्ता में ऐसी ताकतें आ गयी हैं, जिन्होंने देश का रास्ता भटका दिया है। उन्होंने दिल्ली में वन रैंक वन पेंशन का लाभ नहीं मिलने से क्षुब्ध एक पूर्व सैनिक द्वारा आत्महत्या के मामले की तरफ इशारा करते हुए कहा, “जो सीमाओं पर जान देकर हमारी रक्षा कर रहे हैं, वे आत्महत्या भी कर रहे हैं। सोचिये किन लोगों के हाथ में है सरकार। वर्ष 2017 में हमें प्रदेश में सपा की सरकार बनानी है, क्योंकि इससे ही देश में बदलाव लाया जा सकता है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 3, 2016 4:07 pm

  1. No Comments.

सबरंग