ताज़ा खबर
 

यूपी की इस महिला ने लि‍खी पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी, बताया- मैंने उन्‍हें वोट दिया है, अब वह तीन तलाक खत्‍म करवाएं

महिला का आरोप है कि वह गर्भवती है और उसके परिवार वाले लगातार गर्भपात कराने का दबाव बना रहे थे। तीसरी बेटी ना हो जाए इस डर से 24 मार्च को पति और ससुरालवालों ने गर्भ गिराने का दबाव बनाया।
Author सहारनपुर | March 29, 2017 14:43 pm
महिला ने लि‍खी पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी- तीन तलाक खत्‍म करवाएं (ANI Photo)

यूपी के सहारनपुर की रहने वाली सगुफ्ता ने पीएम मोदी को चिट्टी लिख न्याय की गुहार लगाई है और तीन तलाक खत्म करने की अपील की है। महिला की दो बेटियां और वह वर्तमान में गर्भवती है। महिला का कहना है कि उसका पति और ससुराल वाले उसका गर्भपात कराना चाहते थे, लेकिन मैंने अबॉर्शन कराने से मना कर दिया। जिसके बाद पति ने मेरे साथ मारपीट करने के बाद तीन बार तलाक, तलाक… तलाक बोलकर तलाक दे दिया। यही नहीं उसे घर से बाहर भी निकाल दिया गया। अब महिला ने पीएम मोदी से न्याय की गुहार लगाते हुए ट्रिपल तलाक खत्म करने की मांग की है और पेट में पल रहे बच्चे की सुरक्षा की गुहार भी लगाई। महिला ने एएनआई से कहा, “मैंने ट्रिपल तलाक को खत्म करने के लिए पीएम मोदी को चिट्ठी लिखी है। मैंने उन्हें वोट दिया है और मुझे उम्मीद है कि अब मुझे न्याय मिलेगा।”

महिला का आरोप है कि वह गर्भवती है और उसके परिवार वाले लगातार गर्भपात कराने का दबाव बना रहे थे। तीसरी बेटी ना हो जाए इस डर से 24 मार्च को पति और ससुरालवालों ने गर्भ गिराने का दबाव बनाया। विवाहिता ने गर्भ में पल रहे बच्चे का कत्ल कराने से साफ इंकार कर दिया तो उसके साथ मारपीट भी की गई। इसी दौरान गुस्से में उसके पति ने उसे तीन बार तलाक बोल दिया और घर से निकाल दिया। महिला ने इस संबंध में पुलिस में भी शिकायत की। महिला ने कहा कि पुलिस ने उसकी शिकायत ले ली और उसे सिर्फ भरोसा दिया गया कि इस मामले को देखा जाएगा। हमारी एफआईआर नहीं लिखी गई। महिला ने कहा कि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। इसके बाद मेरे भाई और पिता को जान से मारने की धमकियां मिलने लगी।

पुलिस द्वारा मदद नहीं मिलने पर महिला ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर परिवार की सुरक्षा और तलाक को खत्म करने की गुहार की। इसके अलावा उसने चिट्ठी की कॉपी यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ, राष्ट्रीय महिला आयोग, जिलाधिकारी को भी भेजी है।

बीजेपी नेता शाजिया इल्मी का आरोप- "जामिया के सेमिनार में ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर बोलने नहीं दिया गया"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.