December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

मायावती ने धम्म चेतना यात्रा को बताया विफल, कहा- बौद्घ भिक्षु बनाकर शामिल किए गए भाजपा-संघ के लोग

मायावती ने कहा कि कानपुर में अमित शाह द्वारा किए धम्म चेतना यात्रा के समापन सम्बन्धी समारोह में दलित वर्ग के लोग शामिल नहीं हुए।

Author लखनऊ | October 14, 2016 21:55 pm
बसपा के संस्थापक कांशीराम की पुणयतिथि पर आयोजित समारोह में लखनऊ में पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को संबोधित करतीं बसपा सुप्रीमो मायावती। (PTI Photo by Nand Kumar/9 Oct, 2016)

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ‘धम्म चेतना यात्रा’ को पूरी तरह विफल बताते हुए शुक्रवार (14 अक्टूबर) को कहा कि इस यात्रा में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोगों को बौद्घ भिक्षु बनाकर शामिल किया गया। मायावती ने यहां जारी एक बयान में कहा कि भाजपा धर्म को राजनीतिक और चुनावी स्वार्थ के लिए इस्तेमाल कर रही है। प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर इस पार्टी द्वारा निकाली गयी धम्म चेतना यात्रा कुछ प्रायोजित बौद्घ भिक्षुओं के जरिये निकलवायी गयी है।

उन्होंने कहा कि कानपुर में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा किए धम्म चेतना यात्रा के समापन सम्बन्धी समारोह में दलित वर्ग के लोग शामिल नहीं हुए, बल्कि भाजपा और संघ के ज्यादातर लोगों को ही ‘नकली दलित’ बनाकर शामिल कराया गया। साथ ही, जिन बौद्घ भिक्षुओं को सम्मानित करने की बात की गयी है, उनमें से भी ज्यादातर इन्हीं संगठनों के बहुरूपिये शामिल हैं। बसपा प्रमुख ने कहा कि धम्म चेतना यात्रा ठीक वैसी ही है जैसी कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दशहरा के मौके पर लखनऊ में रामलीला में शामिल होकर धर्म की आड़ में राजनीति करने की कोशिश की थी ताकि वह उत्तर प्रदेश में अपनी पार्टी की ख़स्ताहाल स्थिति को थोड़ा सहारा दे सकें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 14, 2016 9:55 pm

सबरंग