ताज़ा खबर
 

BJP नेता पर मुकदमे के मामले में पांच अगस्त तक जवाब दाखिल करे सरकार: हाई कोर्ट

अदालत ने गिरफ्तारी पर रोक लगाने के मामले पर कोई आदेश पारित नहीं किया है।
Author लखनऊ | July 28, 2016 20:07 pm
दयाशंकर सिंह ने मायावती पर आपत्तिजनक बयान दिया था।

इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनउच्च् पीठ ने बसपा अध्यक्ष मायावती के प्रति अभद्र टिप्पणी करने के आरोपी पूर्व भाजपा नेता दयाशंकर सिंह की गिरफ्तारी पर रोक लगाने की गुजारिश पर आज कोई आदेश पारित ना करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार को आगामी पांच अगस्त तक अपना जवाब दाखिल करने और उसकी एक प्रति याची के वकील को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। न्यायमूर्ति अजय लाम्बा और न्यायमूर्ति रवीन्द्र नाथ की पीठ ने यह आदेश देते हुए अगली सुनवाई की तारीख आठ अगस्त नियत की।

दयाशंकर सिंह ने बसपा प्रमुख के बारे में अभ्रद टिप्पणी के बाद अपने खिलाफ मुकदमा दर्ज किये जाने को उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी। उन्होंने इस मामले में अपनी गिरफ्तारी पर रोक लगाने के आदेश देने का आग्रह किया था। हालांकि अदालत ने गिरफ्तारी पर रोक लगाने के मामले पर कोई आदेश पारित नहीं किया है।

मालूम हो कि भाजपा के तत्कालीन प्रान्तीय उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने पिछले हफ्ते एक बयान में मायावती के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की थी। उसके बाद उन्हें भाजपा से निकाल दिया गया था और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था।
बसपा नेता मेवालाल गौतम की तरफ से दर्ज प्राथमिकी में सिंह के खिलाफ अनुचित जाति एवं जनजाति :अत्याचार निरोधक: अधिनियम तथा भारतीय दंड सहिता की धाराएं लगाई गई हैं। पुलिस सिंह की गिरफ्तारी के लिये जगह-जगह छापे मार रही है, लेकिन अभी तक कोई कामयाबी नहीं मिली।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.