December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

बसपा नेता नसीमुद्दीन ने सपा में रार को बताया पारिवारिक नाटक, कहा- काले धन को लेकर हो रही है लड़ाई

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने सपा पर अपने हितों के लिए मुसलमानों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया।

Author मेरठ | October 27, 2016 16:30 pm
बसपा के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी। (फाइल फोटो)

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने सपा में रार को पारिवारिक नाटक करार देते हुए कहा कि सपा परिवार के नेता काले धन को लेकर आपस में लड़ रहे हैं। उन्होंने सपा पर अपने हितों के लिए मुसलमानों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। बसपा नेता ने भाजपा पर दंगे कराने के आरोप लगाते हुए कहा कि जनता ऐसे लोगों को चुनाव में सबक सिखाएगी। सिद्दीकी ने उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के किठौर गांव में बुधवार (26 अक्टूबर) को आयोजित मुस्लिम सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘मुसलमान समाज की प्रमुख ताकत हैं लेकिन सपा आपको अपने हित के लिए इस्तेमाल कर रही है। आपका वोट लेने के बाद सपा ने आपको छोड़ दिया। उसने न तो आपको आरक्षण दिया और न ही अन्य लाभ दिए। आपको अपनी ताकत को समझकर एकजुट होना होगा और सपा के बहकावे में नहीं आकर बसपा को मजबूत करना होगा।’ उन्होंने भाजपा पर राज्य में दंगे कराने के आरोप लगाए और सपा एवं भाजपा को एक बताते हुए कहा कि दोनों पार्टियां साम्प्रदायिक उन्माद फैलाती हैं।

सिद्दीकी ने सपा में पिछले एक माह से चल रही लड़ाई को पारिवारिक नाटक बताते हुए कहा कि यह लड़ाई समाजवाद की नहीं बल्कि परिवारवाद की है जो काले धन के बंटवारे को लेकर हो रही है और सभी का प्रयास यह है कि सरकार के कार्यकाल के अंत में कौन ज्यादा से ज्यादा लूट मचा सके। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बसपा प्रभारी अतर सिंह राव ने कहा कि आने वाला समय बसपा का है और जनता पूरी तरह बसपा के साथ है। दलित, मुस्लिम और पिछड़ी जातियों के साथ सर्वसमाज का समर्थन बसपा को मिल रहा है। उन्होंने जनसभा में उपस्थित लोगों से अपील की कि वे एकजुट होकर पूरे जोश के साथ बसपा को मिशन 2017 में जिताने के लिए कार्य करें। उल्लेखनीय है कि बसपा मुस्लिमों को अपने पक्ष में एकजुट करने के लिए विधानसभा क्षेत्रों में मुस्लिम सम्मेलन आयोजित कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 27, 2016 4:30 pm

सबरंग