ताज़ा खबर
 

यूपी पहुंचे अमित शाह का कार्यकर्ताओं को निर्देश, अब यादव, जाटव को पार्टी में शामिल करो

शनिवार (29 जुलाई, 2017) को तीन दिवसीय यात्रा के तहत उत्तर प्रदेश पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने नई रणनीति पर काम शुरू कर दिया है।
यूपी पहुंचे अमित शाह का लखनऊ में स्वागत करते सीएम योगी आदित्य नाथ और डिप्टी सीएम केशव नाथ मौर्य (फोटो-पीटीआई)

शनिवार (29 जुलाई, 2017) को तीन दिवसीय यात्रा के तहत उत्तर प्रदेश पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने नई रणनीति पर काम शुरू कर दिया है। सूबे में पहुंचते ही शाह ने पार्टी नेताओं को नई जिम्मेदारी दी है। मीटिंग में उन्होंने पार्टी नेताओं से यादव और जाटव समुदाय को पार्टी में शामिल करने पर जोर दिया। क्योंकि भाजपा सभी समुदायों के लोगों की पार्टी है। गौरतलब है कि सूबे में मुख्य रूप से सपा का वोट बैंक यादव और बसपा का वोट बैंक जाटव समुदाय को माना जाता है। जबकि राज्य में नई भाजपा सरकार में महज एक ही मंत्री यादव समुदाय से आते हैं। दूसरी तरफ मीटिंग में राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आगे कहा कि केवल उन्हीं यादव और जाटव समुदाय के लोगों को पार्टी में शामिल किया जाए जिनकी छवि स्वच्छ हो उनका कोई अपराधिक रिकॉर्ड ना हो। मीटिंग में मुख्य रूप से पार्टी के जिलाध्यक्ष और गोरखपुर, काशी, अवध, कानपुर के मेयर और क्षेत्रीय अध्यक्ष के साथ राज्य व राष्ट्रीय स्तर के पदाधिकारी शामिल थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने भी इस मीटिंग में हिस्सा लिया। वहीं एक भाजपा नेता ने सूत्रों के हवाले से बताया कि जिला पंचायत चेयरपर्सन और ब्लॉक प्रमुख, जो यादव और जाटव समुदाय से आते हैं, उन्हें पार्टी में शामिल नहीं किया जाएगा। नेता ने आगे कि हमें यादव और जाटव समुदाय के प्रभावशाली कार्यकर्ताओं की जरूरत है जो बूथ लेवल पर पार्टी के लिए प्रचार कर सके। और पार्टी को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकें।

सूत्रों के अनुसार शाह ने पार्टी मीटिंग में नेताओं से भाजपा को सूबे में अजेय बनाने के लिए कड़ी मेहनत करने का निर्देश दिया। साथ ही सख्त हिदायत देते हुए कहा कि कोई भी कार्यकर्ता सरकारी कामकाज में टांग ना अड़ाएं। इसी वक्त भाजपा अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री और सभी कैबिनेट मिनिस्टर्स को सुझाव दिया कि वो हफ्ते में दो दिन पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करें और उनकी परेशानी सुने। पार्टी सूत्रों ने बताया कि मीटिंग में शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि पार्टी को अजेय बनाने के लिए जमीनी स्तर पर काम करें। ताकि पार्टी का तेजी से विस्तार हो।

इस दौरान कुछ भाजपा जिला अध्यक्षों ने पार्टी प्रमुख से कहा कि कुछ कार्यकर्ता अराजता फैलाने और अधिकारी के साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं। जिसपर शाह ने उन्हें खुद में बदलाव करने की हिदायत दी और सरकारी अधिकारियों से ना उलझने के लिए कहा। खास तौर पर मीडिया के सामने वो अपनी हरकतों को विराम दें। और सपा और बसपा कार्यकर्ताओं की तरह बर्ताव ना करें।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.