ताज़ा खबर
 

केजरीवाल-विश्वास की याचिका पर फैसला सुरक्षित, लोस चुनाव में भड़काऊ भाषण मामला

20 अप्रैल 2014 को लोकसभा चुनाव के दौरान एक सहायक निर्वाचन अधिकारी ने केजरीवाल और विश्वास के खिलाफ भड़काऊ भाषण इत्यादि देने के आरोप में एक मुकदमा दर्ज कराया था।
Author लखनऊ | October 22, 2016 14:53 pm
दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो पीटीआई)

इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और आम आदमी पार्टी (आप) के नेता कुमार विश्वास द्वारा निचली अदालत में अपने खिलाफ दायर एक आपराधिक मामले में जारी समन आदेश को चुनौती देने के लिए दायर याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित कर लिया है। न्यायमूर्ति आदित्यनाथ मित्तल की अदालत ने केजरीवाल और विश्वास द्वारा गत 19 अक्तूबर को दायर याचिका पर शुक्रवार (21 अक्टूबर) को सुनवाई करते हुए अपना फैसला सुरक्षित कर लिया। याचियों के वकील ओंकार पाण्डेय ने बताया कि 20 अप्रैल 2014 को लोकसभा चुनाव के दौरान एक सहायक निर्वाचन अधिकारी ने केजरीवाल और विश्वास के खिलाफ अमेठी के गौरीगंज में भड़काऊ भाषण इत्यादि देने के आरोप में एक मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले में सुलतानपुर के अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने पिछली सात अक्तूबर को केजरीवाल और विश्वास को समन जारी किया था। पाण्डेय ने बताया कि इसी समन को चुनौती देने के लिये उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ में याचिका दाखिल की गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग